भोपाल। राज्यपाल श्री लालजी टंडन ने पचमढ़ी में कहा कि गाँधी जी की अनमोल शिक्षा को अपने जीवन में उतारें और इसके लिये समाज में जागृति भी लाएं। श्री टंडन पचमढ़ी में शैक्षणिक भ्रमण के लिये आने वाले छात्र-छात्राओं के लिये निर्मित नवीनीकृत शयनागार का लोकार्पण कर रहे थे। उन्होंने डाइट और आदिवासी छात्रावास की छात्राओं को गाँधी जी की आत्मकथा 'सत्य के साथ मेरे प्रयोग'' भेंट की।

अंतर्राष्ट्रीय साहसिक कैम्प का शुभारंभ -
राज्यपाल ने पचमढ़ी स्थित भारत स्काउट एवं गाइड संस्थान में 22वें अंतर्राष्ट्रीय साहसिक एवं द्वितीय सांसो एडवेंचर कैम्प का उद्घाटन किया। राज्यपाल ने कहा कि 'वसुधैव कुटुंबकम' की भावना ही हमारी मूल संस्कृति एवं विचारधारा है। राज्यपाल ने युवाओं से कहा कि शिक्षित, अनुशासित और देशभक्त बनें। कला, शिक्षा, रक्षा एवं समाज के विभिन्न क्षेत्रों में अपना अमूल्य योगदान दें। इस अवसर पर स्काउट-गाइड के सेक्रेटरी जनरल श्री पीजीआर सिंधिया, संचालक श्री आर.के. कौशिक और केन्या से आई प्रतिनिधि मिस फ्लोरेंस भी उपस्थित थे।

Post a comment

 
Top