नई दिल्ली। नॉर्थ-ईस्ट दिल्ली में पिछले 3 दिनों से हो रही हिंसा में एक हेड कॉन्स्टेबल समेत अबतक 13 लोगों की मौत हो चुकी है। हिंसा प्रभावित इलाकों में पुलिस को अब दंगाइयों को देखते ही गोली मारने के आदेश दे दिए गए हैं। वहीं आधी रात को दिल्ली में NSA अजित डोभाल एक्शन में नज़र आए। अजित डोभाल दिल्ली के उन इलाकों का दौरा किया जहां पिछले दो दिन से तनाव है। उससे पहले अजित डोभाल रात के बारह बजे नॉर्थ ईस्ट डीसीपी के दफ्तर में पहुंचे। NSA ने सबसे पहले दिल्ली पुलिस के कमिश्नर और दूसरे अफसरों के साथ हालात को लेकर बैठक की, उसके बाद दंगा प्रभावित इलाकों के दौरे पर निकल गए।  अजित डोभाल के साथ दिल्ली पुलिस के कमिश्नर अमूल्य पटनायक, स्पेशल कमिश्नर लॉ एंड ऑर्डर एस एन श्रीवास्तव, स्पेशल कमिश्नर सतीश गोलचा और दूसरे अफसर भी मौजूद थे। नार्थ ईस्ट दिल्ली के डीसीपी वेद प्रकाश सूर्या अजित NSA की गाड़ी में मौजूद थे और उन्हें वहां के हालात के बारे में अपडेट दे रहे थे। NSA करीब चालीस मिनट तक दिल्ली की सड़कों पर घूमें। दिल्ली पुलिस के स्पेशल कमिश्नर (क्राइम) सतीश गोलचा ने बताया कि प्रदर्शनकारियों ने जाफराबाद मेट्रो स्टेशन और मौजपुर चौक को खाली कर दिया है। हालात नियंत्रण में हैं। इससे पहले गृह मंत्री अमित शाह ने दिल्ली पुलिस और गृह मंत्रालय के अधिकारियों के साथ बैठक की थी। पिछले 24 घंटों में शाह की यह तीसरी बैठक थी। सूत्रों के मुताबिक यह बैठक रात 7 बजे शुरू हुई और रात 10 बजे तक चली। बता दें कि पिछले 3 दिनों से नॉर्थ-ईस्ट दिल्ली में जारी उपद्रव में अबतक एक हेड कॉन्स्टेबल रतन लाल समेत 13 लोगों की जान जा चुकी है। उपद्रव में दो दर्जन से ज्यादा वाहनों और दुकानों को आग लगा दिया गया है। इन घटनाओं में 200 से ज्यादा लोग घायल हुए हैं।

Post a comment

 
Top