राजगढ़। रविवार को क्षत्रिय सिर्वी समाज द्वारा श्री आईजी विद्यापीठ स्कूल राजगढ़ में बैठक का आयोजन किया गया जिसमें सर्वप्रथम समाजजनों ने आई माता जी का पूजन कर बैठक प्रारंभ की। जिसमें सामूहिक विवाह के संबंध में चर्चा कि व सर्वसम्मति से निर्णय लिया गया कि अक्षय तृतीय 26 अप्रैल 2020 को प्रतिवर्षा अनुसार इस वर्ष भी 14 वे सामूहिक विवाह का आयोजन श्री आईजी विद्यापीठ स्कुल राजगढ़ में किया जाएगा। वही क्षत्रिय सिर्वी समाज छडावद द्वारा मृत्यु भोज में मावे से बने व्यंजन का उपयोग ना  करने के निर्णय पर समाज जनों ने काफी सराहना की। डॉक्टर दिनेश सतपुड़ा ने  कहा कि यदि इसी तरह तहसील  के प्रत्येक गांव के समाज जन इस तरह का निर्णय ले तो कम खर्च में ही मृत्यु भोज का कार्यक्रम हो जाएगा। जिससे पैसों की बचत होगी और वही बचा हुआ पैसा समाज के उत्थान में काम आएगा। इस दौरान क्षत्रीय सिर्वी समाज प्रांतीय उपाध्यक्ष बाबूलाल  चौधरी , लक्ष्मण सेठ अमोदिया,मोहनलाल चौधरी, गोवर्धन आगलेचा, हुक्मीचंद सेंचा, राजू भायल, लालाराम भायल, कानालाल जमादारी ,मांगीलाल चौधरी, भीमालाल जमादारी, प्रेमचंद्र काग, औकार चौधरी, गंगाराम परवार पवन सेप्टा आदि सहित बड़ी संख्या में समाजजन मोजुद थे। उक्त जानकारी समाज के तहसील मीडिया प्रभारी विनोद सिर्वी धुलेट ने दी।

Post a comment

 
Top