राजगढ़। आचार्य प्रवर श्रीमद्विजय ऋषभचन्द्रसुरिजी महा.सा. के आशीर्वाद से गुरुराज विद्या साख सहकारी संस्था ने 18 वर्ष पूर्व 14 जनवरी 2002 मक्रर संक्रांति के अवसर पर अपना कारोबार प्रारम्भ किया था अध्यक्ष वरिष्ठ अभिभाषक राजेन्द्र मेहता ने बताया कि संस्था ने हर चुनौतियो के बीच से निकलकर ग्राहको का विश्वास हासिल किया है उसके लिए संस्था के समस्थ ग्राहको का विशेष योगदान रहा है। आचार्यदेवेश श्री ऋषभचन्द्रसुरिजी महाराज सा. की मात्र एक ही ऐसी संस्था है जो सहकारिता और सामाजिक क्षैत्र में एक सराहनि योगदान दे रही है। जहाॅं डिपाजीट पर राष्ट्रीकृत बैंक के समकक्ष ब्याज दिया जाता है। संस्था ग्राहको का ऐसा सहयोग एवं विश्वास आगे भी चाहती है। वही उपाध्यक्ष सुजानमल सेठ ने कहाॅ की संस्था द्वारा बेहतर आर्थिक सूविधा देने एवं सामाजिक सहभागिता एवं जनकल्याण के क्षैत्र में सहयोग करने के हमेशा तत्पर है। प्रबन्धक सजंय बाफना ने बताया कि साख सुविधा एवं ग्राहको को वाहन ऋण, गृह निर्माण , उपभोग ऋण ,षिक्षा ऋण , गोल्ड ऋण,  आदि के रूप में नये ऋण वितरण किये गए ।कार्यकृम मे उपाध्यक्ष नरेन्द्र भण्डारी  संचालक विरेन्द्र जैन, मनोहर जैन, प्रकाष पावेचा, शान्ता जैन, रेखा सोनी, लोकेन्द्रसिंह सोलंकी राहुल माली, प्रेमचन्द सोलंकी, रितेश भाटी उपस्थित थे। आभार प्रबंधक संजय बाफना ने व्यक्त किया। 

Post a comment

 
Top