सुमित राठौड़, बामनिया। स्थानीय महाशय धर्मपाल (MDH) दयानंद आर्य विद्या निकेतन, बामनिया में गणतंत्र दिवस धूमधाम से मनाया गया। इस अवसर पर विभिन्न कक्षाओं के बच्चों ने अपनी कला का प्रदर्शन करते हुए आकर्षक डांस, मनमोहक ऑर्केस्ट्रा, देश की बेटी पर आधारित नाट्य गीत, भारतीय के कर्तव्य पर लघु नाटिका , कविताएं व भाषण की प्रस्तुति देकर आयोजन को सफल बनाया। कार्यक्रम का शुभारंभ मुख्य अतिथि अशोक भदोरिया द्वारा ध्वजारोहण कर राष्ट्रीय गान व बच्चो के PT प्रदर्शन के साथ हुआ। साथ ही नन्हे मुन्ने बच्चे रानी लक्ष्मी बाई, भारत माता, नेताजी की वेशभूषा में आए थे। कार्यक्रम के मुख्य अतिथि अशोक भदोरिया रिटायर्ड सेना नायक थे, जिनका परिवार चार पीढ़ियो से भारतीय सेना में सेवाएं दे रहा है।
प्राचार्य प्रवीण अत्रे ने अपने स्वागत भाषण में सभी विद्यार्थियों एवं उपस्थित गणमान्य को गणतंत्र दिवस की शुभकामनाएं देकर जिम्मेदार व जागरूक भारतीय बनने की प्रेरणा दी, साथ ही मुख्य अतिथि श्री भदोरिया ने अपने भाषण में बच्चो को लोकतंत्र व अपने अधिकारों के पालन करने की प्रेरणा दी। एडमिन ऑफिसर संदीप बिसारिया ने बच्चो की प्रस्तुति की सराहना करते हुए शुभकामनाएं देकर आभार व्यक्त किया। कार्यक्रम का संचालन मनोज मालवीय ने किया। मुख्य अतिथि को संस्था की ओर से स्मृति चिन्ह भेंट किया गया।
कार्यक्रम को सफल बनाने में  संगीत शिक्षक शैलेश त्रिपाठी, आचार्य दिलीप शास्त्री, नृत्य शिक्षिका लक्ष्मी श्रीवास, स्मिता भट्ट, कविता त्रिपाठी, नीलम खन्ना एवं समस्त स्टाफ का सहयोग सराहनीय रहा। कार्यक्रम के अंत में बच्चो को बूंदी के लड्डू वितरित किये गए। इस अवसर पर संस्था अध्यक्ष महाशय धर्मपाल, उपप्रधान विनय आर्य, महामंत्री जोगिंदर खट्टर, शिक्षा निदेशक अनु वासुदेवा, बिपिन भल्ला, गोवर्धन सिंह राठौर, जीववर्धन शास्त्री, विश्वास सोनी, संजय मखोड़ एवं संस्था परिवार ने समस्त विद्यार्थियों को व सभी अभिभावकों को गणतंत्र दिवस की हार्दिक शुभकामनाएं दी।

Post a comment

 
Top