वीराज प्रजापति, सारंगी। मध्य प्रदेश शासन के निर्देशानुसार तथा राजस्व अनुविभागीय अधिकारी एवं दंडाधिकारी एमएल मालवीय के मार्गदर्शन में अतिक्रमण विरोधी मुहिम के तहत ग्राम पंचायत द्वारा आम जनता को सूचित करने के लिए दो दिन तक मुनादी करवाई गई थी। इसमें नागरिकों को सड़क पर बनाए गए ओटले, छज्जे तथा सड़क पर किए गए अन्य अतिक्रमण और दुकान के सामने जिसमें आवागमन बाधित होता है स्वेच्छा से हटाने के लिए निर्देशित किया गया था। नहीं हटाने वालों के विरुद्ध सख्त कार्रवाई की चेतावनी भी दी गई थी। मुनादी के बाद ही गांव के लोगों ने प्रशासन को सहयोग करके सक्रियता से अतिक्रमण स्वेच्छा से हटा दिया था शनिवार को दिन भर लोगों ने स्वेच्छा से अपने अस्थाई चद्दर डालिए ओटलों आदि को हटाया। आज अनुविभागीय अधिकारी एमएल मालवीय ग्राम सारंगी अतिक्रमण मुहिम के अंतर्गत निरीक्षण करने पहुंचे जिससे ग्राम सारंगी में ग्राम पंचायत की मुनादी के बाद लोगों द्वारा स्वेच्छा से अतिक्रमण हटाया गया था। लोगों द्वारा अतिक्रमण हटाने पर एसडीएम ने गांव के लोगों को प्रशासन को सहयोग करने पर स्वागत किया एवं धन्यवाद दिया तथा खुशी जाहिर की साथ ही जिन लोगों द्वारा सूचना पत्र के बाद वह मुनादी के पश्चात अतिक्रमण नहीं हटाया गया है उनका अतिक्रमण प्रशासन द्वारा शक्ति से हटाया जाएगा साथ ही ग्रामीणों की मांग पर यातायात की भी व्यवस्था समुचित करने की मांग की गई। जिस पर एसडीएम द्वारा चौकी प्रभारी से बात कर ट्रैफिक व्यवस्था निश्चित स्थान पर करने के आदेश दिए गए।  ग्रामीणों की मांग पर धर्म नारायण मंदिर पर पुजारी की नियुक्ति के संबंध में ग्राम पंचायत को आदेश दिए अतिक्रमण मुहिम के संबंध में ग्रामीणों को बताया गया कि कोई भी अवैध अतिक्रमण हो तो मुझे व्यक्तिगत फोन कर बता सकते हैं समय अवधि में अगर अतिक्रमण नहीं हटाया जाता है तो प्रशासन द्वारा शक्ति से अतिक्रमण हटाया जाएगा तथा दस हजार रूपये का दंड भी किया जावेगा। इस दौरान एसडीएम  के साथ नायब तहसीलदार अलावा, हल्का पटवारी यस रामावत, सरपंच  फुंदीबाई मेडा, उपसरपंच परमानंद पाटीदार, सचिव राजेंद्र पाटीदार, सहायक सचिव रवि सोलंकी पंचायत के कर्मचारी तथा ग्रामीण उपस्थित थे। 

Post a comment

 
Top