राजगढ़। गुरुवार को इस साल का अंतिम सूर्य ग्रहण हैं। यह सूर्य ग्रहण ढाई घंटे से अधिक समय का रहेगा एवं इसका सूतक काल 12 घंटे पूर्व ही लग जाएगा। उक्त जानकारी देते हुए नगर के पांच धाम एक मुकाम श्री माताजी मंदिर के ज्योतिषाचार्य श्री पुरुषोत्तमजी भारद्वाज ने बताया कि 26 दिसंबर गुरुवार को भारत में पूर्ण रूप से सूर्यग्रहण दिखाई देगा। इस ग्रहण का सूतककाल 12 घंटे पूर्व यानि की 25 दिसंबर बुधवार को रात्रि 8 बजे से सूतक प्रारंभ होगा। 26 दिसंबर गुरुवार को प्रातः 8 बजकर 9 मिनट पर ग्रहण स्पर्श होकर प्रातः 10 बजकर 58 मिनट पर मोक्ष होगा। ग्रहण का पर्व काल 2 घंटे 49 मिनट का होगा। यह ग्रहण मूल नक्षत्र धनु राशि पर ग्रहण होने से धनु राशि वालो भार रहेगा। साथ ही वृषभ, धनु, कन्या व मकर राशि के लिए अशुभ हैं। मेष, सिंह व वृश्चिक राशि हेतु यह ग्रहण मध्यम हैं तथा कर्क, तुला, कुंभ व मीन राशि के लिए यह ग्रहण शुभ रहेगा। ज्योतिषाचार्य श्री भारद्वाज ने बताया कि सूतक काल के समय देवी देवताओं की प्रतिमा को स्पर्श ना करें। ग्रहण के दौरान अपने इष्ट देव एवं कुल देवता का जाप करें। उक्त जानकारी मंदिर के शास्त्री श्रीकृष्ण भारद्वाज ने दी। 

Post a comment

 
Top