राजगढ़। केंद्रीय जेल रीवा में हत्या के आरोप में आजीवन कारावास की सजा काट रहा राजगढ़ का व्यक्ती पैरोल पर जेल के आने के बाद से एक वर्ष से अधिक समय से फरार था। जिसे राजगढ़ पुलिस ने गिरफ्तार कर रीवा पुलिस के हवाल किया है। राजगढ़ थाना प्रभारी लोेकेश सिंह भदौरिया ने बताया की राजगढ़ निवासी कालू उर्फ शाहिद खान पिता अनवर खान उम्र 33 वर्ष के विरूद्ध इंदौर के चंदन नगर थाने में हत्या का प्रकरण दर्ज हुआ था। जिसे वर्ष 2008 में न्यायालय ने आजीवन कारावास की सजा सुनाई थी। आरोपी कालू उर्फ शाहिद को केंद्रीय जेल इंदौर से 19 मई 2018 को केंद्रीय जेल रीवा भेजा गया था। रीवा जेल से आरोपी कालू उर्फ शाहिद को 13 जून 2018 को 16 दिन की पैरोल मिली थी। पैरोल खत्म होने के बाद आरोपी कालू उर्फ शाहिद वापस जेल ना जाते हुए फरार हो गया था। जिसके विरूद्ध रीवा के सिवील लाईन थाने में धारा 224 एवं 109 में अपराध दर्ज किया गया था। रीवा पुलिस ने इसकी सुचना राजगढ़ थाने पर दी थी। आरोपी कालू उर्फ शाहिद के राजगढ़ में होने की सुचना रीवा पुलिस से पाकर राजगढ़ पुलिस ने कार्रवाई करते हुए आज सुबह राजगढ़ के अमोदिया रोड़ (अमोदिया घाटी) से आरोपी को गिरफ्तार कर रीवा पुलिस के हवाले किया। थाना प्रभारी भदौरिया ने बताया की उक्त कार्रवाई जिला पुलिस अधिक्षक आदित्य प्रताप सिंह,  एडिशनल एसपी ओमकर सिंह कलेश एवं सरदारपुर एसडीआपी ऐश्वर्य शास्त्री के मार्गदर्शन में की गई। आरोपी को पकड़ने में राजगढ़ पुलिस थाना  के एएसआई आरआर भगोरे, प्रधान आरक्षक दिवाकर सिंह बैस, आरक्षक जितेन्द्र भूरिया एवं गुलाब का योगदान रहा।

Post a comment

 
Top