दसाई। सांसारिक जीवन को त्यागकर 15 जनवरी को मोहनखेडा तीर्थ स्थान पर आचार्य श्री ऋषभचंद्रसूरीश्वर म.सा के द्वारा दीक्षा प्रदान की जावेगी। इसके तहत दसाई के मुमुक्षु अजय नाहर का मंगलवार को नगर मे  सजंय कालोनी से विशाल  वर्षीदान  वरघोडा निकाला जावेगा। जैनाचार्य श्री ऋषभचंद्रसूरीश्वर म.सा व मुनिमडंल का 10 दिसम्बर मंगलवार को भव्य मंगल प्रवेश  प्रातः 9 बजे धूमधाम के साथ होगा। प्रवेश के साथ ही  विशाल जुलूस संजय कालोनी से प्रारम्भ होकर हरदेवलाला चौक नयाबाजार  होते हुए जैन मन्दिर पहुंचेगा जहॉ आचार्यश्री द्वारा प्रवचन एंव महामांगलिक दी जावेगी। जैन समाज के इतिहास मे अब दसाई का नाम भी जुडेगा। यहॉ पहली बार कोई युवा दीक्षा लेकर साधु बनेगा इसके लिये समाजजन द्वारा  इस कार्यकम्र को यादगार बनाने के लिये तैयारिया जोरो पर की जा रही है। आयोजन मे दीक्षार्थी  मुमुक्षु अजय नाहर के वर्षीदान वरघोडा के साथ नगर मे कई धार्मिक कार्यक्रमो का आयोजन श्रीसंघ दसाई द्वारा किया जा रहा है। 9 दिसम्बर सोमवार को तेजाजी चौक पर विशाल भक्ति का आयोजन इन्दौर के प्रसिद्व गायक अदिती कोठारी द्वारा अपनी टीम के साथ कई स्तवन प्रस्तुत किये जावेगे। वही महिलाओ द्वारा राजेन्द्रसूरी ज्ञान मन्दिर मे महिला संगीत का आयोजन किया जावेगा। 10 दिसम्बर मंगलवार को प्रातः8 बजे नवकारी का आयोजन मण्डलेचा परिवार द्वारा किया जावेगा। दोपहर मे स्वामीवात्सल्य का लाभ  मिसरबाई नाहर परिवार ने लिया। वही मुमुक्षु अजय नाहर का बहुमान समारोह का आयोजन के साथ-साथ गुरुपद महापूजन का आयोजन किया जावेगा।

मुमुक्षु अजय नाहर का जीवन परिचय- 27 जून 1987 को अशोक कुमार नाहर के जहॉ जन्म लेने वाले अजय को घर सहित हर कोई टोनी के नाम से बुलाते हैं। माता लक्ष्मीबेन के  घर मे सबसे छोटा होने से काफी प्यार करती है। दो भाई के साथ-साथ तीन अंकल के साथ दादी मिसरबाई का प्यार हमेशा ही मिलता रहा। बीए तक की शिक्षा ग्रहण करने वाले अजय के मन मे बचपन से ही धर्म के प्रति लगाव रहा। आचार्यश्री ऋषभचंदसूरीश्वर म.सा के साथ कई वर्षो से रहते हुवे कई तीर्थ यात्रा पैदल कर चुके है। अजय के मन मे साधु बनने की ललक बचपन से ही थी। पढाई के साथ-साथ वह हमेशा धर्म की पढाई भी मन लगाकर करता रहता था। अजय का कहना है कि संसार मे धर्म के आगे सब व्यर्थ है। जीवन की नाव मात्र धर्म के मार्ग से ही पार की जा सकती है धर्म के माध्यम से अपने जीवन को धन्य करना चाहता है। कार्यक्रम मे दसाई के राजगढ, धार, मनावर, बदनवार, कुक्षी, कानवन, नामली, इन्दौर, नागदा, जावरा, सहित कई जगह से समाजजन उपस्थित रहेगे।

Post a comment

 
Top