रिंगनोद। नगर में राजपूत समाज द्वारा प्रतिवर्षानुसार इस वर्ष भी 33वां अन्नकूट (श्री राम मंदिर पर) का आयोजन किया गया। आयोजन में प्रादेशीक पदाधिकारियो का हुआ प्रथम नगर आगमन हुआ। आयोजन में  समाज के गौरव एवं प्रतिभाओ का सम्मान किया गया। साथ ही श्रीमद् भागवत कथावाचक पंडितजी का  प्रथम नगर आगमन पर अतिथिगणों के द्वारा सम्मान किया गया।  आयोजन में मुख्य अतिथि के रूप में श्री राष्ट्रीय राजपूत करणी सेना महिला इकाई प्रदेश अध्यक्षा मंजीत कीर्तिराज सिंह मिटावल, अखील भारतिय क्षत्रीय महासभा संभाग अध्यक्ष दुलेसिह राठौड व करुणा जीजा, हेमा जीजा, समता जीजा, निर्मल जीजा, कविता जीजा व धार जिला अध्यक्ष भंवर हर्षदीपसिंह चौहान, जिला महामंत्री- धर्मेंद्र सिंह राजावत, जिला मंत्री-लोकेन्द्र सिंह बसलई, जिला प्रवक्ता मोंटी सिंह उपस्थित रहें।  आयोजन को सम्बोधित करते हुए  प्रदेश अध्यक्ष राठौड़ ने कहा की समाज मे बेटियो की पढ़ाई पर विषेश जोर दिया जाए एवं समाज के कार्यक्रमों मे सभी सहभागीता करे। इस कार्यक्रम में  रिंगनोद राजपूत समाज के अध्यक्ष प्रहलाद सिंह, पूर्व अध्यक्ष  जितेन्द्र सिंह चौहान, दशरथ सिंह चौहान, सुंदर सिंह डोडीया मन्दिर के पुजारी शंकरदास बैरागी एवं राजपुत समाज के अन्य वरिष्ठजनो एवं  सदस्यों द्वारा अतिथियो का पुष्पहार से सम्मान किया गया।  श्री राष्ट्रीय राजपूत करणी सेना की रिंगनोद इकाई के युवा वर्गके  विपिन्द्र, रिक्किराज रिक्कि, पिंटु, त्रिलोक, जितेन्द्र सिह राठौड, नारु समस्त रिंगनोद श्री राष्ट्रिय राजपुत करणी सेना की अहम भूमिका रही । कार्यक्रम के दौरान समाज के वरिष्ठ एवं मार्गदर्शक बाबुजी के नाम से जाने जानेवाले स्व. सितारामजी चौहान को समाज की और से विनम्र श्रद्धांजली दि देते हुए उनके परिवार द्वारा रिंगनोद करणीसेना ईकाई को 11 हजार रूपये की सहयोग राशी भेंट की गई।  इस दौरान करणी सेना सरदारपुर तहसील कार्यकारी अध्यक्ष भानुप्रताप सिंह  देवड़ा, युवराज सिंह पंवार , कुलदीप सिंह चौहान, नरेंद्र सिंह चौहान, राहुल प्रताप सिंह राठौर,अशोक सिंह पंवारआदि उपस्तिथ रहे। कार्यक्रम को सफल बनाने पर सभी अतिथियों का सकल राजपूत समाज एवं युवा करणी सैनिक रिंगनोद द्वारा आभार व्यक्त किया गया। कार्यक्रम का संचालन अनुराग डोडीया ने किया एवं आभार दशरथ सिहं चौहान ने माना। उक्त जानकारी राष्ट्रीय राजपूत करणी सेना रिंगनोद मीडिया प्रभारी एवं प्रवक्ता अनुराग सिंह डोडिया ने दी।

Post a comment

 
Top