भोपाल। भोपाल के मिन्टो हॉल में दो-दिवसीय 'राइट टू हेल्थ कॉन्क्लेव'' के दो नवम्बर को आयोजित होने वाले समापन समारोह में राज्यपाल श्री लालजी टंडन शामिल होंगे। समापन समारोह दोपहर 12.45 बजे शुरू होगा। राइट टू हेल्थ कॉन्क्लेव के दूसरे दिन 2 नवम्बर के सत्र प्रात: 9.30 बजे से शुरू होंगे। पहला सत्र सुबह 9.30 से 10.45 बजे तक होगा। इसमें स्वास्थ्य के अधिकार को क्रियान्वित करने में जन-सामाजिक संस्थाओं और स्थानीय सरकारी निकायों की भूमिका पर चर्चा होगी। इसके साथ ही प्रौद्योगिकी और नवाचार के माध्यम से स्वास्थ्य पारिस्थितिकी तंत्र की सक्रिय भागीदारी पर चर्चा होगी। इसी दौरान अन्य सत्र में आधुनिक युग में स्वास्थ्य संबंधी उभरती चुनौतियाँ और स्वास्थ्य के अधिकार के क्रियान्वयन में मीडिया की भूमिका पर चर्चा होगी। एक अन्य सत्र में प्रात: 10.45 बजे से दोपहर 12.45 तक 'स्वास्थ्य के अधिकार की दिशा में प्रतिबद्धता'' विषय पर विषय-विशेषज्ञ समीक्षा करेंगे। मुख्यमंत्री ने इस मौके पर आने वाले वर्ष को गोंड कला वर्ष घोषित किया और इसके प्रतीक चिन्ह का विमोचन किया। प्रारंभ में गोंड कलाकारों ने पारंपरिक नृत्य और संगीत के साथ मुख्यमंत्री का अभिवादन किया। उत्सव में सुप्रसिद्ध संगीत निर्देशक एवं गायक श्री अमित त्रिवेदी ने आकर्षक प्रस्तुति दी। उस्ताद गुलाम साबिर निजामी बन्धु ने सूफी कव्वाली प्रस्तुत की। इस मौके पर जनसम्पर्क मंत्री श्री पी.सी. शर्मा, पूर्व केन्द्रीय मंत्री श्री सुरेश पचौरी, विधायक श्री विश्वास सारंग, श्री रामेश्वर शर्मा, मुख्य सचिव श्री एस.आर. मोहन्ती एवं वरिष्ठ अधिकारी तथा बड़ी संख्या में आम नागरिक उपस्थित थे। मुख्यमंत्री ने कहा कि मैं लोगों की शक्ति को सरकार की शक्ति मानता हूँ। जनादेश का सम्मान हो, उनके विश्वास पर सरकार खरी उतरे, इसके लिए हम अपनी सुस्पष्ट नीतियों, सभी वर्गों के कल्याण कार्यक्रमों और संकटों को अवसर के रूप में मानकर काम कर रहे हैं। हमारा यह भाव मध्यप्रदेश को अब आगे ही आगे बढ़ाएगा।

Post a comment

 
Top