सरदारपुर। प्रदेश सरकार की वादाखिलाफी से रोजगार सहायकों में रोष व्याप्त है। गत विधानसभा चुनाव में संकल्प पत्र में किए गए वादे पूरा नहीं होने पर ग्राम रोजगार सहायक संगठन के आह्वान पर 16 अक्टूबर से 23 अक्टूबर तक कलम बंद हड़ताल पर रोजगार सहायक उतर चुके हैं। गुरुवार को जनपद पंचायत के समीप स्थित गणेश मंदिर प्रांगण में ग्राम रोजगार सहायक संगठन ने टेंट लगाकर प्रदेश सरकार के खिलाफ जमकर नारेबाजी की संगठन के जिला अध्यक्ष वीरेंद्र सिंगार ने बताया कि प्रदेश सरकार ग्राम रोजगार सहायकों के साथ सौतेला व्यवहार कर वादा खिलाफी कर रही है सरकारी यदि नहीं मानी तो आगामी 23 अक्टूबर को भोपाल में प्रदेश के 23 हजार ग्राम रोजगार सहायकों द्वारा गांधी की वेशभूषा धारण कर दांडी मार्च निकाला जाएगा एवं गिरफ्तारी दी जाएगी। गौरतलब है कि रोजगार सहायक संगठन 9 सूत्री मांगों के निराकरण के संबंध में हड़ताल पर उतरा है चर्चा के दौरान सिंगार ने बताया कि वचन पत्र अनुसार प्रदेश सरकार रोजगार सहायकों को नियमित किया जाए 2013 के आदेश के बिंदु क्रमांक 6 के मुताबिक कार्य के प्रति लापरवाही मामले में ग्राम रोजगार सहायकों को निलंबित किया जाए एवं निलंबन अवधि में गुजारा भत्ता दिया जाए ग्राम रोजगार सहायकों पर झूठे मामलों में प्रकरण दर्ज होने पर सेवा समाप्ति नहीं कि जाए दोष सिद्ध होने की दशा में ही सेवा समाप्ति की कार्रवाई की जाए। पंचायत सचिव एवं रोजगार सहायकों के बीच कार्यों का स्पष्ट कार्य विभाजन किया जाए। आकस्मिक मृत्यु की दशा में रोजगार सहायकों के परिजनों को 5 लाख के अनुग्रह सहायता प्रदान की जाए। दतिया की भांति प्रदेश के सभी जिलों के रोजगार सहायकों का पीएफ कटौत्रा किए जाए एवं झूठे मामलों में सेवा समाप्ति का दंश झेल रहे हैं ग्राम रोजगार सहायकों को तत्काल बहाल किया जाए। इस दौरान जनपद सीईओ पंकज दरोठियां भी रोजगार सहायकों से मिलने पहुंचे। उक्त जानकारी ग्राम रोजगार सहायक संगठन के ब्लॉक अध्यक्ष रविंद्र पाटीदार ने दी।

Post a comment

 
Top