सरदारपुर - अमझेरा। धार जिले में लगातार हो रही लूट, डकैती एवं चोरी होईवे पर राफी लगने की घटनाओं में धार से माछलिया घाट, झाबुआ आदि में रही घटनाओं में बदमाशो की गिरफ्तारी करने हेतु जिला पुलिस अधीक्षक आदित्य प्रतापसिंह एवं अतिरिक्त पुलिस अधीक्षक देवेन्द्र पाटीदार द्वारा सरदारपुर एसडीओपी ऐश्वर्य शास्त्री एवं अमझेरा थाना टीआई रतनलाल मीणा को लगाया गया था। एसडीओपी ऐश्वर्य शास्त्री ने प्रेसवार्ता करते हुए बताया की पुलिस ने ग्राम धामाखेडी थाना गंधवानी के शातिर बदमाश व उसका साथी बल्लू जो काफी समय से फरार चल रहे थे उन्हें पुलिस ने गिरफ्तार किया है।

वाहन चेकिंग के दौरान धराये कुख्यात बदमाश -
थाना प्रभारी रतनलाल मीणा को वाहन चेकिंग के दौरान मुखबीर सूचना मिली की थाना अमझेरा क्षेत्र का कुख्यात फरार बदमाश मदन पिता नानका परमार जाति भील नि. धामाखेडी का अपने साथी बल्लू पिता अनसिंह जाति भील निवासी धामाखेडी के साथ मोटर सायकल पर एक बंदूक लेकर मांगोद तरफ से अमझेरा तरफ आ रहा है।सूचना पर मय फोर्स के घेराबंदी कर उन्हें पकड़ा गया। आरोपी मदन के कब्जे से एक भरमार बंदूक बिना लायसेंस एवं आरोपी बल्लू पिता अनसिंह भील से बिना कागजात के फैशन प्रो मोटर सायकल जप्त की गई। पुछताछ पर दोनो आरोपियों द्वारा चोरी की मोटर सायकले अपने घर पर छिपा कर रखने की बात कबुलने पर कुल 07 मोटर सायकले दोनो बदमाशो के कब्जे से थाना अमझेरा के सिलसिला क्र. 2/19 धारा 41(1), 102 जा.फौ., 379 भादवि में जप्त की गई है। अन्य सम्पत्ति सम्बंधी अपराधो में पुछताछ की जा रही है। आरोपी मदन पिता नानका परमार जाति भील नि. धामाखेडी का थाना अमझेरा के अपराध क्र 363/19 457,380,395 भादवि में घटना दिनांक से अपने अन्य साक्षियों के साथ फरार था तथा पूर्व मेे इसके द्वारा थाना अमझेरा के अपराध क्र 218/15 धारा 395,397 भादवि, थाना गंधवानी के अपराध क्र. 50/14 धारा 380 भादवि, अपराध क्र. 224/14 धारा 392 भादवि एवं थाना मनावर के अपराध क्र. 133/14 धारा 392 भादवि की घटनाऐं घटित की गई है। मदन का साथी बल्लू पिता अनसिंह जाति भील नि. धामाखेडी का भी उक्त वारदात में इसका साथी रहा है। आरोपियों के कब्जे से बरामद मोटर सायकले के चैचिस नम्बर एवं इंजन नम्बरों से वाहनो की तस्दीक की जा रही है।
मारोल में दिया था बड़ी वारदात को अंजाम -
एसडीओपी शास्त्री ने पत्रकारवार्ता  में बताया की आरोपियो से पुछताछ करने पर आरोपी मदन ने बताया की उक्त घटना में उसके साथ अन्य साथी भी शामिल है। जिनके नाम आरोपियों द्वारा नजरू पिता नानका भील, शकरू पिता मदन भील, कालू पिता सोभान भील, रंगू पिता सोभान भील, भैरू पिता सोभान भील, कालू पिता कनसिंह भील, भंगडिया पिता दयला भील, राकेश पिता अनसिंह भील, बल्लू पिता अनसिंह भील, कैलाश पिता अनसिंह भील, जालम पिता कनसिंह भील, निहालसिंह पिता मदन भील, दडू पिता भीलू भील  तथा  हिरू पिता नंदन भूरिया जाति भील सभी निवासी धामाखेडी थाना गंधवानी होना बताया है।  आरोपी मदन ने अपने उक्त साथियों के साथ दिनांक 9-10 जुलाई की मध्य रात्रि में फरियादी ईश्वसिंह पिता राधाकिशन दांगी नि. मारोल के घर में घुसकर 04 गाय अपने अन्य 14 साथियों के साथ मिलकर चोरी गई। जिसमें से एक गाय को घटना दिनांक को ही चारो पैर काटकर रोड पर फैंक दिया व एक गाय को रास्ते में छोड दी एवं एक गाय पुलिस द्वारा पिछा कर छुडा ली गई। एक गाय मारकर खा गये। थाना अमझेरा पर अपराध क्र 363/19 धारा 457,380,395 भादवि का पंजीबद्ध होकर विवेचना की जा रही है।  आरोपी मदन के कब्जे से एक बिना लायसेंस की भरमार बंदूक जप्त की गई है। थाना अमझेरा पर अपराध क्र 452/19 धारा 25,27 आर्म्स एक्ट का पंजीबद्ध कर विवेचना में लिया गया है।

चोरी की गई 8 मोटर सायकले की जप्त -
आरोपी मदन व उसके साथी बल्लू के कब्जे से 08 मोटर सायकले बिना नम्बर की चोरी की गई। थाना अमझेरा से सिलसिला नं. 2/19 धारा 41(1),102 जा.फौ. व धारा 379 भादवि में जप्त की गई है। जप्त मोटर सायकलो की तस्दीक करते दो मोटर सायकले इन्दौर, एक मोटर सायकल बडवानी तथा चार मोटर सायकले गंधवानी, सरदापुर, केशुर और मनावर के पंजीकृत स्वामियों के नाम से है। जिन्हे पृथक से सूचना दी जा रही है। थाना अमझेरा में उक्त घटना के दरमियान ही हुई अन्य वारदातो के सम्बंध में इनसे पुछताछ की जाना है। उक्त आरोपियों की गिरफ्तारी में थाना अमझेरा के टीआई रतनलाल मीणा, उनि रमेशचंद्र डामोर, सउनि अजय वर्मा, प्रधानआरक्षक 507 संदीप, आरक्षक क्र 833 रतन , आरक्षक क्र 644 मंगलसिंह, आरक्षक क्र 685 संजयसिंह, आरक्षक क्र 90 राजा सेन, आरक्षक क्र. 550 राहुल की अहम भूमिका रही है। 

Post a comment

 
Top