रिंगनोद। नगर के मुस्लिम समाज के हाजी मंजूर अली सय्यद और उनकी पत्नी हज्जानी शमा बी, कमरुद्दीन शाह और शन्नो बी के देश के प्रमुख नगरों में स्थित इस्लाम धर्म के पवित्र प्रमुख स्थलो की ज्यारत कर वापसी रिंगनोद आने पर समाजजनों ने उनका पुष्प माला पहनाकर सभी यात्रीयों का स्वागत कर सम्मान किया। यह सभी यात्री केजीएन ग्रुप  कुक्षी के माध्यम से बस द्वारा देश के इस्लाम धर्म के प्रमुख तीर्थ स्थल कालपी शरीफ, मकनपुर शरीफ, लखनऊ शरीफ, अमरोहा, देवा शरीफ, बरेली शरीफ, कलियर शरीफ, पानीपत, दिल्ली, आगरा, फतेहपुर सीकरी, जयपुर, अजमेर, सरवाड़, कपासन आदि जगह के मजारो की ज्यारत कर देश की खुशहाली और भाईचारे की दुआएं मांगी गई। यह यात्रा 15 दिवसिय थी। केजीएन ग्रुप के महबूब कुरेशी और मोहम्मद आफरीन ने बताया कि प्रतिवर्ष बस से देश के प्रमुख मजार शरीफ की ज्यारत मुस्लिम समाजजनों को करवाई जाती है। इस बार बड़वानी, दाहोद, कुक्षी, सिलकुआ और रिंगनोद के कुल चालीस यात्री शामिल हुए थे। सात वर्ष से केजीएन ग्रुप द्वारा देश के प्रमुख इस्लाम धर्म के पवित्र तीर्थ स्थलो की जियारत करवाई जा रही है। सभी यात्रीयों का रिंगनोद आने पर अशफाक ठेकेदार द्वारा चाय नाश्ता करवाया गया।

Post a Comment

 
Top