रायपुर। महात्मा गांधी की 150वीं जयंती पर आयोजित विधानसभा सत्र के दौरान डॉ. श्यामा प्रसाद मुखर्जी प्रेक्षागृह में मुख्यमंत्री श्री भूपेश बघेल ने पद्मश्री श्रीमती शमशाद बेगम एवं साथी कमाण्डों को शॉल-श्रीफल भेंट कर सम्मानित किया। इस अवसर पर विधानसभा अध्यक्ष डॉ. चरण दास महंत, संसदीय कार्य मंत्री श्री रविन्द्र चौबे सहित अन्य मंत्री एवं विधायक उपस्थित थे।  इस मौके पर पद्मश्री श्रीमती शमशाद बेगम के साथ दुर्ग, राजनांदगांव और बालोद जिले की विभिन्न गांवों के लगभग 350 महिला कमाण्डांे कार्यक्रम में आयी थी। पद्मश्री श्रीमती शमशाद बेगम ने बताया कि इन तीनों जिलों के विभिन्न गांवों में 10-10 महिलाओं को महिला कमाण्डों बनाया गया है। ये महिला कमाण्डांे निःशुल्क रूप से अपने-अपने गांवों में नशामुक्ति, स्वच्छता सहित अनेक सामाजिक बुराईयों को मिटाने का काम कर रही हैं। महिला कमाण्डों द्वारा सामाजिक बुराईयों को मिटाने और शिक्षा, स्वास्थ्य, स्वच्छता, पर्यावरण सहित सरकार की जन कल्याणकारी योजनाओं का प्रचार-प्रसार किया जा रहा है। कमाण्डों द्वारा नशाबंदी, दहेज प्रथा, अंधविश्वास, टोनही प्रथा, लिंग भेद, बाल विवाह, भू्रण हत्या पर अंकुश लगाने के लिए जन-जागरूकता का काम किया जा रहा है। उन्होंने बताया कि महिला कमाण्डांे कानून के दायरे में रहकर काम करते हैं। हमें पुलिस का संरक्षण भी मिलता है और समय-समय पर पुलिस विभाग द्वारा प्रशिक्षण भी दिया जाता है। उन्होंने बताया कि सामाजिक बुराईयों को खत्म करने के उद्देश्य से महिला कमाण्डों की शुरूआत 2006 से गुण्डरदेही से हुई थी और आज 14 जिलों में इसका विस्तार हो गया है। 

Post a Comment

 
Top