नई दिल्ली। केंद्रीय सड़क परिवहन एवं राजमार्ग मंत्री नितिन गडकरी ने बुधवार को कहा कि देश के बुनियादी ढांचा क्षेत्र में रोजगार देने की व्यापक क्षमता है। उन्होंने कहा कि पूर्वोत्तर राज्यों मे राजमार्गों के साथ बांस के पेड़ लगाकर रोजगार के दो लाख अवसरों का सृजन किया जा सकता है। गडकरी ने बुधवार को यहां आईडीएफसी इंस्टिट्यूट द्वारा ‘देश में रोजगार सृजन के लिए ढांचागत प्राथमिकताएं’ विषय पर एक रिपोर्ट जारी किए जाने के मौके पर कहा, ‘‘सरकार का मुख्य मिशन रोजगार क्षमता का सृजन है। राजमार्गों सहित बुनियादी ढांचा क्षेत्र में रोजगार पैदा करने की व्यापक क्षमता है। मंत्री ने कहा कि सड़क निर्माण के साथ राजमार्ग परियोजनाओं में रोजगार सृजन की व्यापक क्षमता है। उन्होंने बताया कि अब प्रतिदिन 29 किलोमीटर सड़कों का निर्माण हो रहा है। उन्होंने बताया कि भारत चीन से 4,000 करोड़ रुपये की धूपबती की लकड़ी का आयात कर रहा है। सरकार ने हाल में इस पर आयात शुल्क बढ़ाकर 30 प्रतिशत किया है। गडकरी ने कहा कि इस तरह का बांस अरुणाचल प्रदेश और अन्य क्षेत्रों में उपलब्ध है। मैंने आयातकों से कहा है कि वे इसकी खेती करें। राष्ट्रीय राजमार्गों के पास भी बांस की खेती हो सकती है। ‘‘‘सिर्फ बांस से ही दो लाख रोजगार के अवसरों का सृजन किया जा सकता है।’’

Post a comment

 
Top