भोपाल। लोक स्वास्थ्य  एवं परिवार कल्याण मंत्री श्री तुलसीराम सिलावट ने   कहा कि झाबुआ जिला अस्पताल मेँ 300 बिस्तर क्षमता की सुविधाएँ उपलब्ध करवाई जायेगी। मंत्री श्री सिलावट आज झाबुआ जिला मुख्यालय पर स्वास्थ्य  मेला को संबोधित कर रहे थे। मंत्री श्री सिलावट ने क़हा कि  मुख्यमंत्री श्री कमलनाथ के नेतृत्व में सरकार  अपने वचन-पत्र को पूरा करने के लिए संकल्पित है।  लोकहित में नित नये निर्णय लिये जा रहे हैं। उन्होंने कहा कि आशा कार्यकर्ताओं को पहले कोई भी मासिक मानदेय नहीं मिलता था, अब प्रतिमाह मासिक मानदेय देने का निर्णय लिया गया है। डॉक्टरों की कमी की पूर्ति करने के लिए डॉक्टरों की भर्ती की जा रही है। प्रदेश में 2000 एएनएम की भर्ती प्रक्रिया जल्द प्रारंभ की जाएगी। झाबुआ अस्पताल में प्राथमिकता से डॉक्टर्स  की पद-स्थापना की जाएगी।  मंत्री श्री सिलावट ने कहा कि सरकार ने 25 हजार वेतन पाने वाले डॉक्टरों का वेतन बढ़ाकर 50 हजार, 50 हजार वालों का 90 हजार एवं 90 हजार वालों का वेतन 1 लाख 80 हजार कर दिया है। प्रदेश में स्वास्थ्य सेवाओं को और अधिक बेहतर करने के लिए विभाग का बजट इस बार 33 प्रतिशत बढ़ा दिया गया है। झाबुआ के लोगों को गुजरात में इलाज के लिए नहीं जाना पडे़, ऐसी व्यवस्थाएँ झाबुआ के अस्पतालों में की जाएगी। उन्होंने रानापुर स्वास्थ्य केन्द्र के उन्नयन एवं जिले के ग्रामीण अस्पतालों की सुविधाएँ बढ़ाने का प्रस्ताव बनाकर भेजने के लिए भी कहा।  मंत्री श्री सिलावट ने कहा कि मिलावटी दूध बेचने वालों को अब समाज में नहीं, प्रदेश की जेलों में रहना पडे़गा। मिलावटखोरों पर रासुका लगाया जाएगा, एफआईआर की जाएगी। राज्य सरकार ने प्रधानमंत्री आवास योजना की राशि भी बढ़ाकर ढाई लाख रूपये कर दी है। उन्होंने कहा  कि मुख्यमंत्री मदद योजना में आदिवासी के परिजन की मृत्यु पर बारहवां के कार्यक्रम के लिये 1 क्विंटल चावल या गेहूँ और बच्चे के जन्म पर संस्कार कार्यक्रम के लिए 50 कि.ग्रा तक गेहूँ या चावल दोनों में से एक दिया जाएगा। कार्यक्रम के लिए बर्तन भी ग्राम पंचायतों से उपलब्ध करवाये जायेंगे। श्री सिलावट ने बताया कि अब ऐसे उपभोक्ता जो 100 यूनिट तक बिजली जलाते हैं, उन्हें सिर्फ 100 यूनिट का ही बिजली बिल देना होगा। 

लाड़ली लक्ष्मी योजना के प्रमाण-पत्र किये वितरित-
मंत्री  श्री सिलावट ने स्वास्थ्य मेले मे लाड़ली लक्ष्मी योजना की हितग्राही बालिकाओं और प्रसूति सहायता योजना की हितग्राही महिलाओं को प्रमाण-पत्र प्रदान किये। मीजल्स रूबेला टीकाकरण अभियान में उत्कृष्ट कार्य वाले बीएमओ एवं अन्य डॉक्टर को भी सम्मानित किया गया।

आशा, आँगनवाड़ी कार्यकर्ता एवं अन्य हितग्राहियों की समस्या सुनी-
मंत्री श्री सिलावट ने स्वास्थ्य मेला स्थल पर पहले पंडाल में बैठी आशा,  आँगनवाड़ी कार्यकर्ता, एएनएम एवं स्व-सहायता समूह की महिलाओं की समस्याएँ सुनी और उसके बाद मंच पर पहुँचे। नर्तक दल के साथ उन्होंने उत्साह से मान्दल भी बजाई। 

Post a Comment

 
Top