नई दिल्ली। भारतीय अंतरिक्ष अनुसंधान संगठन (ISRO) ने लैंडर विक्रम के बारे में आखिरी अपडेट देने के एक हफ्ते बाद आज पहला ट्वीट किया। ISRO ने ट्वीट करके उसके साथ खड़ा होने के लिए लोगों को धन्यवाद कहा है। ISRO ने ट्वीट में कहा लिखा कि “हमारे साथ खड़े रहने के लिए धन्यवाद। हम आगे बढ़ना जारी रखेंगे। दुनिया भर में भारतीयों की आशाओं और सपनों से प्रेरित हैं।”
इससे पहले ISRO ने अपने आखिरी ट्वीट में लैंडर विक्रम से जुड़ी जानकारी सांझा की थी। वह ट्वीट ISRO ने 10 सितंबर को किया था। ट्वीट में ISRO ने लिखा था कि "चंद्रयान-2 के ऑर्बिटर द्वारा लैंडर विक्रम का पता लगा लिया गया है। लेकिन, अभी तक उससे कोई संपर्क नहीं हो सका है। लैंडर से संपर्क करने के लिए हर संभव प्रयास किए जा रहे हैं।" इस ट्वीट के बाद ISRO का ट्विटर अकाउंट शांत था। बता दें कि ISRO लगातार लैंडर विक्रम से संपर्क करने की कोशिश में लगा है लेकिन फिलहाल संपर्क नहीं हो पा रहा है। चांद की सतह से 2.1 किलोमीटर की दूसरी पर ISRO और लैंडर विक्रम का संपर्क टूट गया था।

Post a comment

 
Top