सरदारपुर। नर्मदा घाटी विकास प्राधिकरण की नर्मदा माईक्रो सिंचाई योजना मे विधानसभा क्षेत्र के आदिवासी बाहुल्य क्षेत्र रिंगनोद, तिरला, दत्तीगॉव, राजोद मे नवीन सरदारपुर लिंक परियोजना की स्वीकृती के लिए सोमवार को नर्मदा घाटी विकास प्राधिकरण के मंत्री सुरेन्द्रसिंह हनी बघेल एवं क्षेत्रीय विधायक प्रताप ग्रेवाल के झाबुआ प्रवास के दौरान ग्राम दत्तीगॉव मे जनप्रतिनिधीयो एवं ग्रामीणो द्वारा पत्र सौंपकर शीघ्र ही स्वीकृती की मांग की है। पत्र के माध्यम ग्रामीणो ने बताया है कि रिंगनोद, तिरला, दत्तीगॉव, राजोद क्षेत्र आदिवासी बाहुल्य क्षेत्र होकर सिंचाई के पर्याप्त स्त्रोत नही होने के कारण प्रतिवर्ष लगभग 30 से 35 हजार ग्रामीण गुजरात पलायन कर जाते है। अगर नवीन लिंक परियोजना की स्वीकृती हो जाती है तो क्षेत्र के आदिवासी किसानो की आर्थिक स्थिती मजबूत होगी ओर क्षेत्र से होने वाले पलायन के आंकडो मे कमी आएगी।
ग्रामीणो द्वारा रिंगनोद, भीलखेडी, नयापुरा, गुमानपुरा, पिपरनी, कंजरोटा, बिमरोड, दत्तीगॉव, जूनापानी, बर्डीपाडा, पिपल्याभान, आमझर, सेमल्या, करनावद, माछलिया, धूलेट, छडावद, चालनीमाता, फुटतलाव, बिमरोड, तिरला, भेरूपाडा, आमल्याखूर्द, आम्बा, भाटियाबर्डी, महापुरा, कुशलपुरा, उटावा, भानगढ, सोनगढ, टिमायची, अमोदिया, एहमद, गोविन्दपुरा, फुलगॉंवडी, बोला, पसावदा, नरसिंहदेवला, जौलाना, साजोद, निपावली, पटोलिया, देवीखेडा, सलवा, संदला, लाबरिया, बरमण्डल, राजोद आदि ग्राम पंचायतो एवं राजगढ, सरदारपुर नगर परिषद् को उक्त योजना मे शामिल किये जाने की मांग की है, इस दौरान दत्तीगॉव सरपंच प्रकाश वसुनिया, महेश शर्मा, भीमालाल चौधरी, रमेश चौधरी, चरणसिंह, अनसिंह गुण्डिया, उंकारलाल, भोजराज कमेडिया आदि उपस्थित थे।

Post a comment

 
Top