भोपाल। लोक स्वास्थ्य एवं परिवार कल्याण मंत्री श्री तुलसीराम सिलावट राजधानी के शासकीय जे.पी हॉस्पिटल में 6 अगस्त को प्रदेश के पहले मातृ दुग्ध कोष 'अमृत कलश' का लोकार्पण करेंगे। प्रमुख सचिव लोक स्वास्थ्य एवं परिवार कल्याण श्रीमती पल्लवी जैन गोविल ने बताया कि 'अमृत कलश' बनाने में राष्ट्रीय स्वास्थ्य मिशन, 'पाथ' और सुशेना हेल्थ फॉउडेशन के सहयोग से अत्या‍धुनिक उपकरणों और तकनीक का उपयोग किया गया है। प्रमुख सचिव ने बताया कि पहले चरण में डोनर से संकलित मातृ दुग्ध और माँ के स्वयं के शिशु के लिए संग्रहित मातृ दुग्ध का उपयोग संस्था में जन्मे जटिल नवजात एवं माँ के चिकित्सकीय कारणों अथवा लेक्टोरान फेलुअर के चलते मातृ दुग्ध से वंचित शिशुओं को देने में किया जायेगा। उन्होंने कहा कि बच्चों को अनेक घातक बीमारियों से सुरक्षित रखने और उनके समुचित शारीरिक एवं मानसिक विकास में अहम भूमिका निभाने वाले अमृत तुल्य मातृ दुग्ध से कोई बच्चा वंचित नहीं रहेगा। इसके लिए डोनर माताओं और प्रसवोत्तर माताओं से दुग्ध के सुरक्षित संकलन, स्क्रीनिंग और वितरण की व्यवस्था 'अमृत कलश' से की जा रही है।

Post a Comment

 
Top