भोपाल। मध्यप्रदेश के पूर्व सीएम बाबूलाल गौर का बुधवार सुबह भोपाल के नर्मदा अस्पताल में निधन हो गया। पिछले कुछ दिनों से उनका स्वास्थ्य खराब था। मंगलवार को उनकी हालत और भी बिगड़ गई। ब्लड प्रेशर कम होने के साथ पल्स रेट भी गिर गया था। उनके निधन के बाद भाजपा में शोक की लहर छा गई है। दोपहर 2 बजे सुभाष नगर विश्राम घाट पर उनका अंतिम संस्कार किया जाएगा। इसके पहले दोपहर 12 बजे भाजपा कार्यालय में अंतिम दर्शन के लिए उनकी पार्थिव देह को रखा जाएगा। पूर्व सीएम के निधन पर आज मध्यप्रदेश में आधे दिन का अवकाश और तीन दिन का राजकीय शोक घोषित किया गया है। गौर पिछले 15 दिन से नर्मदा अस्पताल में वेंटीलेटर सपोर्ट पर थे। डॉ. राजेश शर्मा ने बताया कि गौर की किडनी पूरी तरह काम नहीं कर रही थी। इससे पहले दिल्ली स्थित मेदांता अस्पताल में उनकी एंजियोप्लास्टी की गई थी। दिल्ली से गौर पिछले महीने की 27 तारीख को भोपाल लौटे थे। बाबूलाल गौर का जन्म 2 जून 1929 को उत्तर प्रदेश के प्रतापगढ़ जिले के नौगीर गांव में हुआ था। एक मजदूर नेता के तौर पर उन्होंने भोपाल में अपनी छवि बनाई और इसके बाद जनसंघ के सदस्य बनकर आगे बढ़े। अगस्त 2004 में उन्होंने उमा भारती के बाद मध्यप्रदेश के मुख्यमंत्री का पद संभाला और 29 नवंबर 2005 को यह पद छोड़ा। पूर्व सीएम शिवराज सिंह चौहान की सरकार में वे नगरीय निकाय मंत्री रहे। 1977 से 2013 तक वे भोपाल की गोविंदपुरा सीट से विधायक रहे।

Post a comment

 
Top