झाबुआ। जिले के रायपुरिया में सागर आनंद सुरी समुदाय वर्तनी मालवा विभूति परम पूज्य साध्वी श्री हेम प्रभा श्रीजी म. सा.की  सुशिष्या साध्वी श्री हितेषा श्रीजी जी म.सा. व साध्वी श्री रत्नेषा श्रीजी जी आदि ठाणा-2 विराजित है जिन की निश्रा में रायपुरिया में भव्य चातुर्मास चल रहा है इस चतुर्मास के चलते मनोहरलाल राठौड़ परिवार की लाडली बिटीया 18 वर्षीय कु.करिश्मा पिता श्रैणीक राठौर ने नव उपवास की तपस्या की ,जिस के उपलक्ष में रायपुरिया जैन उपाश्रय में साध्वी श्री ने प्रवचन के दौरान तपस्या करने से अपने जीवन में होने वाले लाभ के बारे में विस्तार से समझाया प्रवचन समापन के पश्चात तपस्वी की अनुमोदना की गई तत्पश्चात तपस्वी करिश्मा राठौर परिवार के द्वारा अपने निज निवास पर पारणा करवाया। करिश्मा की इस 9 उपवास की तपस्या पर सभी ने साता पूछते हुए अनुमोदना की।, इस अवसर पर रायपुरिया श्रीसंघ के कमल जैन, सुनील झालोका, दिलीप कुमार चौधरी, मनीष कुमट झकनावद सहीत समाज जन उपस्थित थे।

Post a Comment

 
Top