धार। परम् पूज्य पूण्य सम्राट श्रीमद्विजय जयंतसेनसुरीश्वर जी मसा के पट्टधर आचार्य देवेश श्रीमद्विजय नित्यसेनसुरीश्वर जी म.सा की आज्ञानुवर्ती साध्वी श्री अविचलद्रस्ट्रा श्री जी मसा आदि ठाणा 7 का नगर में भव्य मंगल प्रवेश शनिवार को सुबह हुआ। रिमझिम बारिश के बीच समाजजनों ने साध्वी मसा का स्वागत लालबाग, घोड़ा चौपाटी पर किया। यहां से जुलूस शुरू हुआ और नगर के विभिन्न मार्गों से निकला, जुलूस में महिलाएं सर पर कलश लेकर चल रही थी। साथ ही कई स्थानों पर गवली कर साध्वी मसा की आगवानी की गई। जुलूस का समापन राजेंद्र भवन बड़ा रावला पर हुआ, जहां पर साध्वी मसा ने मंगल प्रवचन दिए।
धर्म आराधना के लिए किया प्रेरित-
सभा में पूज्य साध्वी श्री अविचलद्रस्ट्रा श्री जी मसा ने चातुर्मास काल के महत्व के बारे में विस्तृत जानकारी दी। साध्वी मसा ने तप, दर्शन, ज्ञान, चरित्र को पाकर हम आत्म को परमात्मा से जोड़ सकते है इस बात को भी समझाया। साथ ही साध्वी श्री निरुपमकला श्री जी ने भी सभी को धर्म आराधना के लिए प्रेरित किया। सभा में अतिथि के रूप में मनोहरलाल पुराणिक संघ के सहमंत्री, सुरेश तांतेड़ प्रदेश अध्यक्ष मप्र संघ, सुशील गिरिया राष्ट्रीय उपाध्यक्ष परिषद, रमेश धाड़ीवाल प्रदेश महामंत्री आदि उपस्थिति थे। कार्यक्रम की अध्यक्षता ओर स्वागत उद्बोधन प्रकाश बाफना ने दिया। श्री पुराणिक और श्री धाड़ीवाल ने अपने उद्बोधन में धार श्रीसंघ की तैयारियांे की प्रशंसा करते हुए इस प्रकार के आयोजन कर समाजजनों को एकजुट रहने की बात कही। उक्त जानकारी पीयूष जैन ने दी।
समाज की सेवा के लिए किया अभिनंदन
कार्यक्रम में राजेन्द्र मोदी व महेशचंद्र बिल्लोरे का अभिनंदन जैन श्रीसंघ द्वारा उनकी जैन समाज को दी जाने वाली सेवा के लिए किया गया। गुरुदेव के वासक्षेप पूजन का लाभ राजेश व संजय नाहर परिवार ने लिया और काम्बली के चढ़ावे का लाभ राजेन्द्र कुमार, संजय कुमार, राकेश सुराणा परिवार ने लिया। प्रवेश की नवकारसी ओर भोजन का लाभ झमकलाल मनोहरलाल तांतेड़ परिवार ने लिया था। कार्यक्रम में वर्धमान सुराना, मनोहरलाल जैन, हेमंत मेहता, मनोज श्रीश्रीमाल, महेंद्र धोखा, प्रकाश डूंगरवाल, महेंद्र अम्बोर, घेवरचंद जैन, सुभाष जैन, शरद धोखा, दीपक बाफना, अजय छाजेड़, विपिन लुनिया आदि ने अतिथियों का स्वागत किया। कार्यक्रम में बड़ी संख्या में समाजजन उपस्थित थे। कार्यक्रम का संचालन मोहित तांतेड़ प्रदेश उपाध्यक्ष नवयुवक परिषद मप्र ने किया और आभार आदित्य धोका ने माना।

Post a Comment

 
Top