रायपुर। मुख्यमंत्री श्री भूपेश बघेल की माता श्रीमती बिंदेश्वरी देवी बघेल का आज भिलाई-तीन के उमदा रोड स्थित मुक्तिधाम में गमगीन माहौल में अंतिम संस्कार किया गया। बड़ी संख्या में लोगों ने नम आंखों से उन्हें अंतिम विदाई दी। मुख्यमंत्री श्री भूपेश बघेल ने विधि-विधान के बीच मुखाग्नि दी। श्रीमती बिंदेश्वरी देवी बघेल की अंतिम यात्रा भिलाई-तीन स्थित मुख्यमंत्री निवास से निकली। अंतिम यात्रा में बड़ी संख्या में बड़े, बुजुर्ग, युवा एवं महिलाएं शामिल हुए। आज सुबह भिलाई-तीन स्थित मुख्यमंत्री निवास में स्वर्गीय बिंदेश्वरी देवी बघेल के पार्थिव शरीर को आम लोगों के दर्शनार्थ रखा गया था। छत्तीसगढ़ उच्च न्यायालय के मुख्य न्यायाधीश श्री पी.आर.रामचंद्र समेत अनेक गणमान्य लोगों ने उनकी पार्थिव काया पर पुष्पांजलि अर्पित कर उन्हें श्रद्धांजलि दी। दुःख की इस घड़ी में लोगों ने मुख्यमंत्री श्री बघेल, उनके पिता श्री नंद कुमार बघेल व उनके शोकाकुल परिवार से मुलाकात ढांढस बंधाया। श्रीमती बिंदेश्वरी देवी की अंतिम यात्रा में मध्यप्रदेश के मुख्यमंत्री श्री कमलनाथ, प्रदेश के विधानसभा अध्यक्ष डॉ. चरणदास महंत, लोक निर्माण मंत्री श्री ताम्रध्वज साहू, पंचायत एवं ग्रामीण विकास मंत्री श्री टी.एस. सिंहदेव, वन मंत्री श्री मोहम्मद अकबर, नगरीय प्रशासन मंत्री डॉ. शिव डहरिया, कृषि मंत्री श्री रवीन्द्र चौबे, खाद्य मंत्री श्री अमरजीत भगत, उच्च शिक्षा मंत्री श्री उमेश पटेल, लोक स्वास्थ्य यांत्रिकी मंत्री श्री गुरू रूद्र कुमार, स्कूल शिक्षा मंत्री डॉ. प्रेमसाय सिंह, राजस्व मंत्री श्री जय सिंह अग्रवाल, वाणिज्य कर एवं उद्योग मंत्री श्री कवासी लखमा, महिला एवं बाल विकास तथा समाज कल्याण मंत्री श्रीमती अनिला भेड़िया, नेता प्रतिपक्ष श्री धरमलाल कौशिक, पूर्व मुख्यमंत्री डॉ. रमन सिंह, अविभाजित मध्यप्रदेश के पूर्व मुख्यमंत्री श्री दिग्विजय सिंह, राज्य सभा सांसद श्रीमती छाया वर्मा, कुर्मी समाज के केन्द्रीय अध्यक्ष श्री रामकुमार सिरमौर, विधायकगण समेत बड़ी संख्या में लोग शामिल हुए। दिवंगत आत्मा की शांति के लिये दो मिनट का मौन रखा गया।

Post a Comment

 
Top