सरदारपुर। जनता का कल्याण ही सबसे बडा कानुन होता है। सजा पर दंड भी मिले जिससे सुधरने का अवसर मिले। समाज सेवा के साथ साथ जनता का हित सर्वोपरी होना चाहिये। उक्त विचार कल सरदारपुर मे अभिभाषक संघ सरदारपुर के द्वारा संघ के सदस्य प्रताप ग्रेवाल के विधायक निर्वाचित होने के बाद अभिनंदन समारोह मे व्यक्त किये। श्री ग्रेवाल ने कहा की आज मे अपने के बीच आकर गौरान्वित महसुस कर रहा हुॅ। कानुन के विद्वानो के साथ मंच साझा करने का अवसर पाकर गौरान्वित महसुस कर रहा हुॅं।  अभिभाषक संघ के द्वारा आयोजित अभिनंदन समारोह मे मुख्य अतिथी विधायक प्रताप ग्रेवाल थे। अध्यक्षता संघ के अध्यक्ष वरिष्ठ अभिभाषक रमेशचंद्र शर्मा ने की। विशेष अतिथी जिला एंव सत्र न्यायायाधीश श्री अरविंद कुमार जैन, श्री एमए खॉन, न्यायाधीश वर्ग 1 श्री मनोज कुमार राठी, न्यायाधीश श्रीमति प्रियंका रतोनिया,  एसडीएम महेश बडोले थे। सर्वप्रथम अतिथीयो ने मॉ सरस्वती के चित्र पर माल्यार्पण कर कार्यक्रम का आरंभ किया। अतिथीयो का स्वागत अभिभाषक संघ के सचिव बीजे उपाध्याय,उपाध्यक्ष राजेन्द्र मेहता,एडीपीओ पीएल मेडा,बीएस बिलवाल,एजीपी दिग्विजयसिंह राठौर,रामलाल पाटिल,सुश्री पी तिवारी,अजयसिंह राठौड, अजय मंडलोई मंडलोई,दिलीपसिंह भदौरिया,मुकेश पाटिदार,भुपेन्द्र जोशी,औसाफ खॉन,आजाद अली सैययद,दिनेश बैरागी,राजेन्द्रसिंह राठौड,अनिल यादव आदि ने किया। स्वागत गीत अभिभाषक योगेन्द्र उपाध्याय ने पेश किया। स्वागत उद्बोधन देते हुये अभिभाषक संघ के सचिव बीजे उपाध्याय ने देते हुये नवीन न्यायालय भवन मे अभिभाषको के बैठने के लिये जगह की कमी के साथ पार्किग समस्या से विधायक को अवगत करवाया। श्री उपाध्याय ने कहा की अभिभाषक की समस्या अभिभाषक ही समझ सकता है। इसलिये हम अपने संघ के सदस्य से उक्त समस्या के समाधान की अपेक्षा रखते है। जिला एंव सत्र न्यायाधीश जैन ने कहा की इसांन वही श्रैष्ठ है जो अपनी आवश्यकताओ के साथ-साथ समाज के लिये भी कुछ करे। विधायक ग्रेवाल के बारे मे पता लगा की वै समाज सेवा के क्षैत्र मे सदैव अग्रणी रहते है। संघ अपने इस सदस्य के समाज सेवा रूपी कार्यो से हमेशा गौरान्वित होता रहेगा। आपने कहा की अपने अंदर एक अच्छी सोच विकसीत करे। समाज की सेवा करने वाला जीवन मे कभी नुकसान मे नही रहता। आपने उपस्थित लोगो से पर्यावरण संरक्षण का भी आव्हान करते हुये पौधे लगाने का आव्हान किया।
अभिभाषक संघ के अध्यक्ष रमेशचंद्र शर्मा ने कहा की परोपकार के लिये मनुष्य का जन्म होता है। दुसरो की भलाई से बडा कोई धर्म नही और दुसरो को दुख देने से बडा कोई पाप नही। परिवार को कोई  सदस्य अच्छे कार्य करता है तो परिवार गौरान्वित महसुस करता है। हम भी अपने संघ के सदस्य प्रताप ग्रेवाल के विधायक बनने से नही बल्कि उनके अच्छे कार्यो से गौरान्वित महसुस कर रहे है।  अभिभाषक संघ के द्वारा विधायक प्रताप ग्रेवान का शाल श्रीफल भेंटकर सम्मान किया। विधायक प्रताप ग्रेवाल ने वाचनालय एंव कक्ष के लिये विधायक निधी से 11 लाख रू देने की घोषणा कर स्वीकृति के लिये पत्र अभिभाषक संघ के अध्यक्ष रमेशचंद्र शर्मा को सौपा। कार्यक्रम के समापन के बाद विधायक प्रताप ग्रेवाल ने न्यायालय भवन परिसर मे पौधारोपण किया। कार्यक्रम का संचालन अभिभाषक अमित तिवारी ने किया एंव आभार  श्री मंडलोई ने व्यक्त किया। 

Post a Comment

 
Top