नरेंद्र पँवार, दसाई। शनिवार को राजेश रमणलाल जैन के खिलाफ थाना अमझेरा मे प्रकरण दर्ज किया गया था। जिसके बाद रविवार को थाना प्रभारी रतनलाल मीणा के द्वारा उसके किराये के मकान के साथ-साथ रिश्तेदारो के घर जाकर छानबीन की गई। छानबीन को लेकर जैसे-जैसे किसानों को पता चला किसानो की काफी भीड जमा होती रही, तब भीड मे व्यापारी के खिलाफ काफि आक्रोश देखा गया।  ज्ञातव्य है कि कडी मेहनत कर किसान अपनी उपज को  तैयार करता है ऐसे मे यदी मेहनता का पैसा कोई  लेकर फरार हो जाता है तो फिर उस पर केसी बीतती होगी। दसाई सहित आसपास के किसानो के साथ ऐसा ही  हुआ दसाई का अनाज व्यापारी करोडो रुपये की चपत लगाकर फरार होगया था। जिसके कारण किसानो की नींद उड गई वही कुछ किसानो की सालभर की मेहनत भी चली गई । तीन जून की रात्रि मे राजगढ कृषि उपज मण्डी की उपमण्डी मे न्यू पूजा ट्रेडर्स के नाम से खरीदी ब्रिकी करने वाला राजेश रमणलाल जैन ने उपमण्डी मे खरीदी का भुगतान नही किया। वही किसानो के घरो से करोडो रुपये की खरीदी कर उन्हे तुरन्त भुगतान का आश्वासन देने के अलावा कुछ किसानो को चेक भी दिये मगर वे भी बाउंस हो गये। किसानो द्वारा इस सम्बन्ध मे  5 जून को पुलिस चौकी पर सरदारपुर के पुलिस अनुविभागी अधिकारी को ज्ञापन दिया था उस समय लगभग 200 से अधिक किसान उपस्थित थे 6 जून को कृषि उपज मण्डी के सचिन के नाम से दसाई उपमण्डी के मण्डी निरिक्षक को और फिर कलेक्टर महोदय को धार मे ज्ञापन दिया गया।
किसान महेश बोलावाला ने बताया की मेरा और मेरे साथी के अलावा कई किसानो का पैसा लेकर राजेश रमणलाल जैन अपने परिवार के साथ कहीं फरार हो गया है। हम सभी ने इस सम्बन्ध मे जिलाधीष महोदय और मण्डी सचिव को भी ज्ञापन दिया है। सोमवार को सभी किसान पुलिस अधीक्षक धार से मुलाकात करेगें। वहीं अतिशिघ्र ही किसान का एक प्रतिनिधि मण्डल प्रदेश के मुख्यमंत्री के साथ-साथ मण्डी बोर्ड से मुलाकात कर फरार आरोपी को तुरन्त ही गिरप्तार करने की मांग करेगा। साथ ही किसानो का पैसा शीघ्र मिल जावे ऐसी कार्यवाही करने का निवेदन किया जावेगा। वही अमझेरा टीआई आरोपी व्यापारी को जल्द गिरफ्तार करने की बात कह रहे है।

Post a Comment

 
Top