नई दिल्ली। प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने रविवार को कहा कि कुछ लोग अभी भी लोकसभा चुनाव के नतीजों से उबर नहीं पाए हैं। रेनीगुंटा हवाई अड्डे पर मोदी ने पार्टी कार्यकर्ताओं की एक बैठक में कहा कि भाजपा के लिए चुनाव का अध्याय अब समाप्त हो चुका है और अब उसका ध्यान 130 करोड़ भारतीयों की सेवा पर है।
उन्होंने कहा, "(लेकिन) कुछ लोग अभी भी चुनाव नतीजों के असर से निकल नहीं सके हैं। यह उनकी अपनी समस्या है, जहां तक हमारी बात है तो हमारे लिए यह अध्याय अब बंद हो चुका है।" मोदी यहां भगवान वेंकटेश्वर की पूजा अर्चना के लिए पहुंचे हैं। प्रधानमंत्री ने अपने संबोधन की शुरुआत तेलुगू के कुछ शब्दों से की। उन्होंने कहा कि वह पहले भी तिरुपति आ चुके हैं और दूसरे कार्यकाल के लिए चुनाव जीतने के बाद अब वह फिर आए हैं। उन्होंने कहा कि उनकी सरकार लोगों की आकांक्षाओं व सपनों को पूरा करने के लिए काम करेगी। उन्होंने कहा, "कुछ लोग जिनका चुनाव में अलग नजरिया था, कह रहे हैं कि लोगों की उम्मीदें काफी बढ़ गई हैं और उन्हें इस बात पर शक है कि क्या मोदी इन उम्मीदों पर खरा उतर पाएगा।"

प्रधानमंत्री ने कहा कि यह नई आकांक्षाएं भारत के उज्जवल भविष्य की गारंटी हैं। उन्होंने विश्वास जताया कि देश तरक्की की नई ऊंचाइयों को छुएगा। उन्होंने आंध्र प्रदेश और तमिलनाडु के लोगों को लोकतंत्र की मजबूती में खास भूमिका निभाने के लिए धन्यवाद दिया। इन दोनों राज्यों में भाजपा को कोई भी सफलता चुनाव में नहीं मिली है। इस संदर्भ में मोदी ने कहा कि भाजपा के लिए हार-जीत मायने नहीं रखती। पार्टी का हमेशा ध्यान जन सेवा पर रहता है। कोलंबो की यात्रा से यहां पहुंचे मोदी ने भगवान वेंकटेश्वर मंदिर में देवता के दर्शन व पूजा-अर्चना की। तिरुमाला पहाड़ी पर बने मंदिर में उनके साथ आंध्र प्रदेश के राज्यपाल ई.एस.एल. नरसिम्हन और मुख्यमंत्री वाई.एस. जगन मोहन रेड्डी भी थे। पूजा-अर्चना के बाद रंगनायकुला मंडपम में मंदिर के पुजारियों और दो अन्य पदाधिकारियों ने मोदी को आशीर्वाद दिया।

Post a Comment

 
Top