आयुषी कुशल राठौर, पेटलावद।  नगर परिषद पेटलावद की कार्यप्रणाली से नगर की जनता परेशान है, नगर परिषद पेटलावद द्वारा वार्ड क्रमांक 8 (मलिन बस्ती) में रहने वाले नागरिको के साथ सौतेला व्यवहार किया जा रहा है, मलिन बस्ती में क़रीब 20 दिनों से नगर परिषद द्वारा कोई उचित व्यवस्था नही की जा रही है जबकि नगर के सभी वार्डों में नल जल योजना व नगर परिषद के टैंकरों द्वारा पेयजल की व्यवस्था की जा रही है।
मलिन बस्ती वार्ड क्रमांक 8 में अधिकांश लोग मज़दूरी करने जाते है जिनकी तन्खा करीब 5 हजार के आस-पास है, जिसमे से उंन्हे परिवारिक ख़र्च के साथ वर्तमान में 50 रुपये रोज़ का पानी ख़रीद कर पीना पढ़ रहा है जिसके कारण ग़रीब बस्ती की जनता नगर परिषद की कार्यप्रणाली पर सौतेला भेद भाव करने का आरोप लगा रही है, इसी कारण रविवार रात्रि करीब 9 बजे बस्ती की महिलाओं ने रोड़ से निकल रहें पानी के टैंकर को रोका व चक्का जाम कर दिया इस दौरान नगर परिषद अध्यक्ष भी मौके पर पहुचे व महिलाओं के मुंह से खरी खोटी सुनने को मजबूर हुए व पानी की समस्या दूर करने का आश्वासन दे कर चले गए। मलिन बस्ती के नागरिकों का कहना है कि नगर परिषद के अधिकारियों ने हमारे साथ भेदभाव किया है, परिषद चाहती तो हम गरीबों को भी नल द्वारा पानी की व्यवस्था कर सकती थी इसका मतलब यही हुआ कि नगर परिषद के अधिकारियों को बरीबो की कोई चिंता नही है, जो 20 दिन से कोई व्यवस्था नही कर पाए है। यदि नगर परिषद 300 मीटर मलिन बस्ती की ओर आ कर नगर में पानी सप्लाई करवाती है तो मलिन बस्ती के लोगो को भी थोड़ी बहुत पानी से राहत मिल जाएगी,व नागरिकों में किसी प्रकार का कोई भेदभाव नज़र नही आएगा।

Post a Comment

 
Top