नई दिल्ली। मौसम विभाग ने बुधवार को कहा कि मानूसन की शुरुआत में एक हफ्ते की देरी हो सकती है और अब इसके आठ जून तक दस्तक देने की संभावना है। आम तौर पर मानसून एक जून को केरल में पहुंच जाता है और इसके साथ ही आधिकारिक तौर पर चार महीने के बारिश के मौसम का आगाज होता है। आईएमडी ने मानसून को लेकर बुलेटिन में कहा है, ‘‘उत्तर की तरफ धीरे-धीरे बढ़ने की अनुकूल संभावना के कारण आठ जून के आसपास केरल में दक्षिण-पश्चिम मानसून की शुरुआत की उम्मीद है। अगले तीन चार दिनों में उत्तर-पूर्वी राज्यों के कुछ भागों में दक्षिण-पश्चिम मानसून के बढने को लेकर अनुकूल स्थिति बनने की संभावना है।’’  मौसम विभाग ने मंगलवार को कहा था कि सात जून को मानसून दस्तक दे सकता है। मौसम का पूर्वानुमान लगाने वाली निजी एजेंसी स्काईमेट ने शनिवार को अपने संशोधित अनुमान में चार जून से सात जून के बीच इसके आने की उम्मीद जतायी थी। वहीं  मौसम विभाग के मुताबिक इस साल देश में मानसून सीजन (जून-सितंबर) के दौरान सामान्य बरसात होने का अनुमान है। मौसम विभाग के मुताबिक इस साल मानसून सीजन में अल-नीनो कमजोर रहने की संभावना है और सीजन बढ़ने के साथ यह कमजोर होता जाएगा।​ मौसम विभाग के मुताबिक इस साल मानसून सीजन के दौरान सामान्य यानि 96 प्रतिशत बरसात का अनुमान है। इसमें 5 प्रतिशत बरसात ऊपर-नीचे हो सकती है।

Post a Comment

 
Top