भोपाल।  बिजली संकट और कटौती को लेकर जनता के गुस्से का सामना कर रही कमलनाथ सरकार फिर भरोसा दिला रही है कि प्रदेश में बिजली संकट नहीं है। पर्याप्त बिजली उपलब्ध है। शिवराज सरकार के दौरान लाइन की मेंटेनेंस ना होने के कारण बार-बार बत्ती गुल हो रही है। सीएम कमलनाथ ने अपील की है कि सोशल मीडिया पर फैल रही अफवाहों से सावधान रहें।  बिजली और पानी को लेकर बेवजह के आरोपों से घिरी कमलनाथ सरकार क्राइसेस मैनेजमेंट में लगी है। मंगलवार को ऊर्जा विभाग की हाईलेवल मीटिंग के बाद अब फिर सीएम ने जनता से कहा है कि प्रदेश में बिजली की कमी नहीं है। और ना ही ये अघोषित बिजली कटौती है। बल्कि पिछली सरकार के दौरान कई साल तक बिजली सप्लाई करने वाली लाइनों का रखरखाव नहीं हुआ है इसलिए बार-बार ट्रिपिंग हो रही है।

सीएम ने कहा अब लाइनों की मरम्मत और मेंटेनेंस किया जाएगा। उन्होंने अफसरों से भी कहा है कि जब मेंटेनेंस काम के लिए लाइन बंद की जाए, तब उसकी खबर पहले से लोगों को दी जाए, ताकि भ्रम की स्थिति ना फैले। लोग ये ना समझें कि बिजली कटौती चल रही है।  सीएम कमलनाथ ने कहा बरसों से बिजली सप्लाई व्यवस्था में सुधार नहीं हुआ है। इसी वजह से बिजली की कटौती की जा रही है। उन्होंने कहा-जल्द शिकायतों का समाधान किया जाएगा। पुरानी सरकार में बिगड़ी व्यवस्था सुधारने में थोड़ा वक़्त लगेगा।  सरकार के पास आर्थिक विकास, इंफ्रास्ट्रक्चर, कृषि के विकास और बेरोज़गारी दूर करने का रोडमैप तैयार है।  उन्होंने सोशल मीडिया पर फैलाई जा रही अफवाहों से सावधान रहने की अपील भी जनता से की। सीएम कमलनाथ ने दावा किया कि मैं और मेरी सरकार पूरे 5 साल सेवा में तत्पर रहेंगे। मैं जो बोलता हूं उसे पूरा करता हूं।

Post a Comment

 
Top