रायपुर। मुख्यमंत्री श्री भूपेश बघेल ने आज सरगुजा जिले के ग्राम सरगवां में आदर्श गौठान का उद्घाटन किया। उन्होंने गौठान में निर्मित इस योजना के विभिन्न घटकों का अवलोकन किया। साथ ही स्व-सहायता समूहों के द्वारा स्थानीय स्तर पर तैयार किये गये उत्पादों का भी अवलोकन किया। इस अवसर पर उन्होंने यहॉ चौपाल लगाकर ग्रामीणों की समस्याओं से रूबरू होते हुए,  नरवा, गरवा, घुरवा और बाड़ी योजना के संबंध में सुझाव लेते हुए इसके महत्व से लोगों को अवगत कराया। उन्होंने बताया कि यह योजना ग्रामीण अर्थव्यवस्था के लिए मील का पत्थर साबित होगा। एक ओर जहॉ पशुओं के देखरेख एवं खानपान का उचित अवसर मिलेगा, वहीं गायों के गोबर से कम्पोस्ट खाद एवं गोबर का उत्पादन होगा। गौमूत्र का उपयोग अनेक दवाईयों के उत्पादन के लिए किया जा रहा है। आज रासायनिक खादों के अत्यधिक उपयोग होने से कैंसर जैसे खतरनाक रोग तेजी से बढ़ रहें है, अनेक विकृतियां आ रही हैं। वहीं रासायनिक खादों का खर्चा भी लगातार बढ़ रहा है। मुख्यमंत्री श्री बघेल ने कहा कि कम्पोस्ट खाद से एक ओर हमें अनेक समस्याओं से निजात मिलेगी, वहीं कम्पोस्ट खाद बनाने में रोजगार के अवसर पैदा होगें। फसलों का उत्पादन भी बढ़ेगा और गांवों का वातावरण भी सुधरेगा। उन्होंने चौपाल में ग्रामीणजनों से नरवा,गरवा, घुरवा और बाड़ी योजना से संबधित सुझावों को आमंत्रित किया। वहीं सरगवां की निवासी सुश्री सपना बैरागी के द्वारा योजना को बहुपयोगी बताते हुए सुझाव दिया गया कि खासकर महिलाओं के लिए गौठान में शौचालय निर्माण किया जाए। श्री बघेल इस सुझाव को श्रेष्ठ सुझाव बताते हुए इसे प्रदेश के संम्पूर्ण गौठानों में लागू करने के निर्देश दिये। उन्होंने अन्य ग्रामों से आये हुए ग्रामीणों को अपने गांवों में गौठान बनाने के लिए स्वयं आगे आने के लिए कहा, उन्होंने कहा कि गौठान ऐसे स्थलों में बनाये जायें जहॉ कोई विवाद न हो। स्वास्थ्य मंत्री श्री टी.एस. सिंहदेव ने कहा कि नरवा, गरवा, घुरवा और बाड़ी योजना के तहत गांव-गांव में गौठान का निर्माण किया जा रहा है, ताकि स्व-सहायता समूह को आर्थिक रूप से सशक्त किया जा सके। उन्होंने कहा कि गौठान में मवेशियों के लिए सभी आवश्यक सुविधाएं दी जाएंगी। इस दौरान मुख्यमंत्री ने करीब 4 लाख रूपये के कृषि सामग्री का वितरण किया। इसमें 20 हितग्राहियों को नेपसेक स्प्रेयर पम्प और 90 हितग्राहियों को सब्जी मिनीकिट वितरित किये गये। इस अवसर पर स्कूल शिक्षामंत्री डॉ प्रेमसाय सिंह टेकाम, सरगुजा विकास प्राधिकरण के अध्यक्ष श्री खेलसाय सिंह, सरगुजा विकास प्राधिकरण के उपाध्यक्ष द्वय श्री वृहस्पत सिंह एवं श्री गुलाब कमरो, सीतापुर विधायक श्री अमरजीत भगत, लुण्ड्रा विधायक डॉ प्रीतम राम, मुख्य सचिव श्री सुनील कुजूर और पंचायत एवं ग्रामीण विकास विभाग के अपर मुख्य सचिव श्री आर.पी. मण्डल, मुख्यमंत्री के संयुक्त सचिव श्री टामन सिंह सोनवानी, सरगुजा संभाग के कमिश्नर श्री ए.के. टोप्पो, पुलिस महानिरीक्षक श्री के.सी अग्रवाल, कलेक्टर डॉ सारांश मित्तर, जिला पंचायत की मुख्य कार्यपालन अधिकारी श्रीमती नम्रता गांधी सहित अन्य जनप्रतिनिधि एवं बड़ी संख्या में ग्रामीणजन उपस्थित थे।

Post a Comment

 
Top