नई दिल्ली। उत्तर प्रदेश के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने बृहस्पतिवार को विपक्ष पर प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी की जाति पूछकर देश को कमजोर करने की साजिश रचने का आरोप लगाया। योगी ने यूपी के गाजीपुर के गहमर और पिपराइच के गुलहरिया में जनसभा को संबोधित करते हुए कहा कि प्रधानमंत्री मोदी की सरकार ने देश की विभिन्न योजनाओं का फायदा किसी की जाति पूछकर नहीं दिया। मगर इसके बावजूद आज कुछ लोग मोदी की जाति पूछ रहे हैं।  उन्होंने कहा कि विपक्ष मोदी की जाति पूछकर देश को कमज़ोर करने की साज़िश रच रहा है। भाजपा सरकार आने के बाद किसी को विकास की चिंता करने की जरूरत नहीं है। सरकार विकास करने के लिए प्रतिबद्ध है। योगी ने विपक्ष पर हमला बोलते हुए कहा कि सपा-बसपा के गुंडे ज़मीनों पर कब्ज़ा करते थे। हमने उन ज़मीनों को मुक्त कराकर उस पर गौशाला, अस्पताल बनाये और बची ज़मीनों के पट्टे गरीबों को दिए। उन्होंने कहा कि आज भाजपा की सरकार में उन गुंडों के मन में भय है। ये जनता की ताकत से ही संभव हो सका है।  मुख्यमंत्री ने कहा कि कांग्रेस 55 वर्षों तक देश के किसानों, सेना के जवानों और नौजवानों की समस्याओं को नज़रअंदाज करती रही, लेकिन प्रधानमंत्री मोदी ने पांच साल में ही सभी समस्याओं के निराकरण का प्रयास किया। उन्होंने कहा कि वर्षों से सैनिकों की मांग रही “वन रैंक वन पेंशन’’ को प्रधानमंत्री मोदी ने लागू किया। योगी ने कहा कि मोदी की वैश्विक नीतियों के कारण भारत का पराक्रम दुनिया में माना जाता है। अब आतंकवादियों को भी पता है कि अगर भारत की तरफ आंख उठाकर देखा तो भारत पाताल से भी ढूंढकर मारेगा। प्रधानमंत्री मोदी की वजह से पाकिस्तान के प्रधानमंत्री के पसीने छूटते हैं। मुख्यमंत्री ने कहा कि किसानों को उनकी फसल की लागत का डेढ़ गुना दाम मिल रहा है। बिना भेदभाव के आज गरीबों को घर मिले, बिजली और रसोई गैस के कनेक्शन मिले हैं तो मोदी को वोट देने में भी कोई भेदभाव नहीं होना चाहिए। 

Post a Comment

 
Top