भोपाल। सरकारी अस्पतालों की ओपीडी में इलाज का समय सुबह 9 से शाम 4 बजे तक होगा। मुख्यमंत्री कमलनाथ ने गुरुवार को स्वास्थ्य विभाग की समीक्षा करते हुए यह निर्देश दिए हैं। स्वास्थ्य मंत्री तुलसी सिलावट ने कहा कि हफ्ते भर के भीतर ही व्यवस्था लागू हो जाएगी। फिलहाल यह व्यवस्था सिर्फ स्वास्थ्य विभाग के अस्पतालों के लिए लागू की जाएगी। इसमें जिला अस्पताल, सिविल अस्पताल, सामुदायिक व प्राथमिक स्वास्थ्य केन्द्र शामिल हैं। दो महीने के भीतर मेडिकल कॉलेजों से संबद्ध अस्पतालों में भी ओपीडी का समय सुबह 9 से शाम 4 बजे करने की तैयारी है। अभी अस्पताल का समय सुबह 8 से 1 व शाम 5 से 6 बजे तक है। दूर से आने वाले मरीजों को अस्पताल पहुंचने में देरी हो जाती है। उनके अस्पताल पहुंचने तक ओपीडी बंद होने लगती है। दूसरी बात यह कि पैथोलॉजिकल जांचें सुबह 11 बजे तक ही होती हैं। ऐसे में मरीजों को अगले दिन आना पड़ता है। अब ओपीडी का समय बढ़ने के साथ ही जांच का समय भी बढ़ जाएगा।

मुख्यमंत्री ने यह भी निर्देश दिए- बेहतर स्वास्थ्य सबका अधिकार हो। इसके लिए 'राइट टू हेल्थ" बनाया जाए। जांच सुविधाएं बढ़ाने के लिए अस्पताल परिसर में पीपीपी से डायग्नोस्टिक सेंटर स्थापित किए जाएं। सीएसआर फंड के तहत सुविधाएं बढ़ाने की कोशिश की जाए। मातृ एवं शिशु मृत्युदर में कमी लाने के प्रयास किए जाएं।

Post a Comment

 
Top