जगदीश चौधरी, खिलेड़ी। जनसहयोग से तैयार हुए मंदिर  की प्राण प्रतिष्ठा को लेकर 22 मई से 26 मई तक होने वाले मां चामुडा माता मंदिर प्राण प्रतिष्ठा महोत्सव एव पंच कुडात्मक शतचंडी महायज्ञ को लेकर हनुमान मंदिर परिसर में यज्ञशाला का निर्माण से पुर्व वेदिक मंत्रों से पंडित सुभाषचन्द्र चौबे एवं ग्रामीणो के द्वारा पहले ध्वज रोपण कीया गया  व शुक्रवार से यज्ञशाला निर्माण शुरू किया।  प्राण प्रतिष्ठा के अवसर पर शतचंडी पंच कुडात्मक महायज्ञ में बैठने व आहुतिया देने के लिए गांव के सभी ग्रामीणो की उपस्थिति में गुरुवार रात बैठक रख कर महायज्ञ मे बैठने के लिए लाभारतीयो ने लगाई बोलीया पंच कुंडात्मक शतचंडी महायज्ञ के आयोजन के लिए जिसमें यज्ञ समिति द्वारा बोलीया लगाई गई जिसमे पहली बोली 82551 हजार की बोली मुख्य प्रधान हनव कुंड के मुख्य यजमान बाबुलाल रामरतन चौधरी ने लगाई, एव मुख्य कुंड के अलावा अन्य आस पास के चार हवन कुंड के लिए चार यजमानो ने 21 -21 हजार रूपये की बोली कुंड पर बैठने व घी की आहुति के लिए लगाई, एवं चार यजमानो ने जव तिल साकयली की आहुतियो के लिए 15 हजार 15 हजार की बोली लगाई गई। वहीं समिति ने बताया की बाकी माता जी की मुर्ती प्राण प्रतिष्ठा के लिए माता की पहली आरती मंदिर कलश मंदिर पर ध्वज महाप्रसादी आदी आयोजन की बोलीया लगाना बाकी है जो महायज्ञ के शुरुआत के दिन लगाई जाएंगी। महोत्सव में यज्ञाचार्य पं.हरिनारायण शास्त्री रेशमगारा धार एवं पंडित सुभाषचन्द्र चौबे के द्वारा माताजी की प्राण प्रतिष्ठा व महायज्ञ की विधि वत वैदिक मंत्रोंच्चार से होगा।

Post a Comment

 
Top