धार। जिले के सरदारपुर, टांडा क्षेत्र अंतर्गत लगातार घटित हो रही लूट, डकैती घटनाओं पर अंकुश लगाने हेतु पुलिस अधीक्षक जिला धार श्री बीरेन्द्र कुमार सिंह ने अतिरिक्त पुलिस अधीक्षक धार श्री रूपेश व्दिवेदी व श्री ओंकार सिंह कलेश के निर्देशन में एसडीओपी सरदारपुर श्री ऐश्वर्य शास्त्री, थाना प्रभारी सरदारपुर श्री ब्रजेश मालवीय, थाना प्रभारी अमझेरा श्री रतनलाल मीणा, थाना प्रभारी टांडा श्री मिर्जा बैग के साथ क्राईम/सायबर प्रभारी श्री संतोष कुमार पाण्डेय को लगाया गया था। क्राईम ब्रांच प्रभारी श्री संतोष पाण्डेय को मुखबिर द्वारा सूचना मिली कि ग्राम डोबनी थाना टांडा क्षेत्र का रहने वाला रेमू उर्फ रमिया पिता बनसिंह मेढा, जिसका ससुराल ग्राम भूतिया में है, आजकल भूतिया गांव के कुख्यात बदमाशों के गिरोह में शामिल होकर लूट, डकैती जैसी घटनाओं में सक्रिय है, तथा आज सरदारपुर बस स्टेण्ड आया हुआ है।  मुखबिर की सूचना महत्वपूर्ण होने से वरिष्ठ अधिकारियों को अवगत कराया जाकर एसडीओपी सरदारपुर श्री ऐश्वर्य शास्त्री के निर्देशन में थाना प्रभारी सरदारपुर की टीम एवं क्राईम/सायबर ब्रांच धार की टीम को लगाया गया। कुछ अंतराल बाद संदेही व्यक्ति को पकड़कर पूछतॉछ की गई। पूछतॉछ में संदेही ने अपना नाम रेमू उर्फ रमिया पिता बनसिंह मेढा जाति भील उम्र 25 साल निवासी मालपुर फलिया ग्राम डोबनी थाना टांडा जिला धार को होकर अपना ससुराल ग्राम भूतिया में होना बताया। आरोपी से टीम द्वारा सख्ती से पूछतॉछ के दौरान आरोपी ने बताया कि मैं अपने ससुराल ग्राम भूतिया के रहने वाले लोगो को भली भाति जानता हू, जो धार जिलें में लगातार लूट, डकैती की घटनाओं को अंजाम दे रहे है। गिरोह के कुछ सदस्य अभी टांडा क्षेत्र भूतिया के पास बैठे में है, जिन्हे पकड़ाने के लिए रमेश ने कहा। टीम द्वारा त्वरित कार्यवाही करते हुए रेमू की निशानदेही पर 4 अन्य आरोपियों को घेराबंदी में लेकर उनके कब्जे से एक देशी कट्टा तथा एक लोहे का धारदार फलिया जप्त किया। पूछतॉछ में आरोपियों ने अपने नाम 1.जस्सु पिता उमराव सिंह मेडा जाति भील उम्र 22 साल निवासी पटेलपुरा फलिया ग्राम भूतिया थाना टांडा, 2.  अनिल पिता कालू भूरिया जाति भील उम्र 19 साल निवासी मेढा फलिया ग्राम भूतिया थाना टांडा जिला धार, 3. सुलतान उर्फ सुक्तन उर्फ सूरज पिता सूरसिंह मेढा जाति भील उम्र 18 साल निवासी चौहान फलिया ग्राम भूतिया थाना टांडा, 4. बालू पिता कालू भूरिया जाति भील उम्र 16 साल निवासी मेढा फलिया ग्राम भूतिया थाना टांडा बताए।

 लूट, डकैती व बलात्कार की कुल 9 घटनाएं कबूली - पांचों आरोपियों ने पूछतॉछ के दौरान थाना अमझेरा की 2,  थाना टांडा की 1 एवं थाना सरदारपुर की 6 सहित कुल 09 लूट, डकैती एवं बलात्कार की घटना अपने गांव भूतिया के अन्य साथियों के साथ करना कबूल किया। सभी अपराध में आरोपी अज्ञात होने से मामलों की पतारसी नही हो पा रही थी। जिस पर पुलिस अधीक्षक धार द्वारा पूर्व में 08 प्रकरणों पर 5,000-5,000/- रू. एवं थाना टांडा के अपराध क्रमांक 166/18 में 10,000/- रू. नगद ईनाम की उद्घोषणा की गई थी। किन्तु अपराधों में आरोपियों की पतारसी न चल पाने के कारण थाना प्रभारी के पत्र पर अपराधों में 10-10 हजार रूपये के ईनाम की पुलिस अधीक्षक धार द्वारा उद्घोषणा की गयी है।  धार जिले के टांडा थाने के अंतर्गत आने वाला ग्राम जामदा-भूतिया शातिर अपराधियों का गढ़ माना जाता है। जिसमें करीब 150 से ज्यादा नामजद अपराधी है तथा 80 से अधिक ईनामी अपराधी है। जब भी पुलिस दल द्वारा अपराधियों की धड़पकड हेतु ग्राम जामदा व भूतिया में दबिश दी गई। तब-तब भौगोलिक स्थिति का फायदा उठाकर अपराधी एवं महिला व बच्चे पहाडी पर चढकर पुलिस दल पर गोफन, तीर व पत्थर आदि से हमला कर देते थे। तथा दबिश पश्चात पुलिस पर बेबुनियादी आरोप लगाते है। आरोपियों से लगातार पूछतॉछ जारी है, उनसे और भी कई लूट, डकैती की घटनाए खुलने की पूर्ण संभावना है। आरोपियानों को पकड़ने में स्थानीय पुलिस के साथ-साथ क्राईम/सायबर ब्रांच धार के अधिकारियों एवं कर्मचारियों का अत्यधिक सराहनीय कार्य रहा है।

Post a Comment

 
Top