नई दिल्ली। मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल ने उन्हें थप्पड़ मारे जाने की घटना पर पीएम मोदी से इस्तीफा मांगा है। उन्होंने कहा कि दिल्ली अकेला ऐसा राज्य है जहां मुख्यमंत्री की सुरक्षा की जिम्मेदारी विरोधी दल की सरकार के पास है। केजरीवाल ने उनकी सुरक्षा में चूक को लेकर षड्यंत्र का अंदेशा जताते हुए कहा कि चूक एक बार हो सकती है 9 बार नहीं। ये बातें उन्होंने प्रेस कॉन्फ्रेंस कर कहीं। उन्होंने पीएम मोदी का इस्तीफा मांगते हुए कहा कि ‘एक मुख्यमंत्री पर हमला हो जाता है और केंद्र सरकार कहती है कि उन्हें कोई शिकायत नहीं मिली इसीलिए आगे की कार्रवाई नहीं की जा सकती, पीएम को इसपर इस्तीफा दे देना चाहिए। ये अरविंद केजरीवाल पर हमला नहीं था, ये दिल्ली के जनमत पर हमला था।’ सीएम केजरीवाल ने कहा कि ‘इन हमलों से मैं डरा नहीं, मजबूत हुआ हूं।’ अरविंद केजरीवाल ने प्रेस कॉन्फ्रेंस में कहा कि ‘‘चार साल में AAP को ख़त्म करने की साज़िश कराई गई, मेरे ऊपर 23 केस करवा रखे हैं। हमारी सरकार गिराने की कौशिश की गई है। दो साल पहले बवाना का MLA ख़रीदा गया, एक और MLA 3 दिन पहले ख़रीदा गया। उन्होंने खुद पर हमले के खिलाफ देश के दूसरे नेताओं के आवाज उठाने की भी बात कही।

Post a Comment

 
Top