सरदारपुर। प्रभु कि चरण,उनकि हि शरण, उनका हि वरण प्रभु भक्ति हे उक्त बातें समीपस्थ ग्राम सगवाल  खेड़ी स्थित ऋण मुक्तेश्वर महादेव मंदिर  पर दिनांक 21 अप्रैल रविवार से चल रही संगीतमय  श्रीमद् भागवत कथा के दूसरे दिन कथावाचक आचार्य श्री विष्णु दत्त शास्त्री ने कही कथा में ,नारद व्यास संवाद, सुकदेव परीक्षित संवाद, विदुर मैत्रेय मुनि संवाद, कुंती स्तुति,उत्तरा के गर्भ मे परिक्षित कि रक्षा हेतु भगवान का प्रवेश, आदि संवादों का वर्णन किया गया, कथा वाचक द्वारा बड़े ही सहज और सरल तरीके से बीच-बीच में भजन के माध्यम से श्रोताओं को मंत्रमुग्ध होकर झूमने को मजबूर कर दिया कथा श्रवण करने बड़ी संख्या में श्रद्धालु पहुंचे कथा का समय प्रातः 10:00 बजे से दोपहर 1:00 बजे तक है कथा का आयोजन फैंस आफ महाकाल ग्रुप व समस्त ग्रामवासी सगवाल केसरपुरा द्वारा किया जा रहा है मंदिर के पुजारी महंत सोहनगिरीजी गोस्वामी ने श्रद्धालुओं को कथा श्रवण करने बड़ी संख्या में पहुंचने की अपील की

Post a Comment

 
Top