नरेंद्र पँवार, दसाई। पाटीदार समाज का 33वॉ रात्रिकालीन सामूहिक विवाह समारोह बुधवार को लाबरिया फांटा सजंय कालोनी मे समाज के युवा संगठन के तत्वावधान मे जगमग रोशनी के साथ सम्पन्न हुआ। कार्यक्रम का शुभारम्भ नगर के प्रसिद्व चारभूजा मन्दिर से तुलसी विवाह के साथ हुआ। सामूहिक विवाह समारोह मे 53 जोडे विवाह सूत्र मे बंधे। सामूहिक विवाह समारोह मे 4 बजे से वर-वधू का आगमन प्रारम्भ हो गया था जिनका स्वागत पाटीदार समाज के वरिष्ठो ने पुष्प के साथ-साथ साफा बांधकर किया। वही  देर रात मे वेदिक मंत्रो के साथ पण्डितो ने 53 जोडो का विवाह कराया। नगर के इतिहास मे यह सबसे बडा सामूहिक विवाह समारोह का आयोजन हुआ। जिसे देखने के लिऐ समाज के अलावा दूर-दूर से लगभग 20 हजार से अधिक जनता उपस्थित थी। विवाह समारोह ऐसा लग रहा था मानो कोई मेले का आयोजन हो रहा हो।
समारोह स्थल पर लोगो को गर्मी नही लगे इसके लिये कुलर के साथ-साथ फव्वारे लगाये गये थे। वही लोगो के मनोरंजन के लिये कई झांकिया बनाई गई थी। जो कार्यक्रम मे आकृर्षण का केन्द्र बिन्दु थी, साथ ही बच्चो के लिये मिक्की माउस के साथ-साथ झुले चक्करी भी थी ताकि बच्चे भी विवाह समारोह का पूरा-पूरा आनंद ले सके। क्रिकेट प्रेमियो के लिये भी समिति द्वारा अलग से मेच देखने के लिये स्क्रीन लगाई थी। जिसका लाभ क्रिकेट प्रेमीयो ने मेच देखकर लिया। मेच देखने वालो की काफी भीड स्क्रीन के सामने थी। समारोह स्थल पर राजस्थान के कलाकारो द्वारा रंगारग प्रस्तुति ने हर किसी का मनमोह लिया। पूरे पाण्डाल मे लोगो को पानी पिने के लिये टेक्ट्रर के माध्यम से आर ओ पानी पिलाया जा रहा था। जिससे लोगो को गर्मी मे काफी राहत मिली। वही इधर-उधर जाना नही पडा। भोजन के लिये कई स्टाल लगाये थे जिससे भोजन करने वालो को किसी भी प्रकार की असुविधा नही हो सकी। विवाह समारोह का प्रवेश द्वारा भी इतना सुन्दर बनाया गया था जिसे चलते राहगीर भी निहार रहे थे। कार्यक्रम स्थल पर सेल्फी पाइंट भी बनाया गया था जहॉ लोगो ने इसका पूरा-पूरा लुप्त उठाया।समाज के युवा वर्ग ने ट्रेफिक व्यवस्था सभांली जिसके कारण लोगो को किसी भी प्रकार से परेशानी नही आई।पुरा पाण्डाल सीसी टीवी केमरे की नजर मे था।

Post a Comment

 
Top