राजगढ़। विद्यालय में आने वाले छात्र-छात्राओं का भविष्य तरासा जाता हैं। विद्यार्थी अपने माता-पिता के सपनों को लेकर स्कूल आता है और माता- पिता के इन्ही सपनों को एवं बच्चों के भविष्य को कोई तरासता हैं तो वह शिक्षक हैं। शिक्षक की मेहनत से बेहतर भविष्य का निर्माण होता हैं। उक्त बातें लक्ष्य सेन्ट्रल स्कूल के द्वारा आयोजित प्रथम वार्षिक उत्सव ‘‘लक्ष्योंत्सव’’ में विधायक प्रताप ग्रेवाल ने कहीं। वही श्री ग्रेवाल ने कहां कि भविष्य में कभी असफलता भी आती हैं एवं आपके समक्ष कठिन परिस्थतियां भी आती है। लेकिन इनसे आप घबराए नही। आप अपना लक्ष्य निर्धारित कर अपने जीवन को आगे बढ़ाए तो निश्चित सफलता मिलेगी। वही लक्ष्योंत्सव में पं. श्री सुभाष शर्मा, विधायक प्रातप ग्रेवाल, सीए भगवान लछेटा इंदौर, बाबुलाल चौधरी धुलेट, मांगीलाल हामड़ कंजरोटा, हेमाजी चोयल आदी अतिथियों के रूप में मंचासीन रहें। कार्यक्रम का शुभारंभ अतिथियों द्वारा माँसरस्वती का पूजन कर किया गया। वहीं अतिथियों का स्वागत संचालक मंडल के पुनमचंद मोलवा, कान्हालाल परवार, सोहन मोलवा, मुकेश चोयल,  डाॅ. पुखराज परवार, टीकम मोलवा, कमलेश मोलवा आदी ने किया।
नन्ने-मुन्नो की कलाओ को खूब सराहा -  विद्यार्थीयों द्वारा सरस्वती वंदना व गणेश वंदना प्रस्तुत की गई। लक्ष्योंत्सव में सभी कक्षाओं के विद्यार्थियों ने अपनी-अपनी कलाओं का प्रदर्शन करते हुए आकर्षक प्रस्तुतियां दी। कार्यक्रम में स्कूल के छोटे-छोटे बच्चों द्वारा दी गई प्रस्तुति ‘आयो रे शुभ दिन आयो रे’, राजस्थानी, पंजाबी तथा शिक्षा के महत्व  एवं मताधिकार पर आधारित नाटक, पुलवामा हादसे पर आधारित ‘‘माइम एक्ट’’, बाल श्रम एवं हिन्दी नवरस पर आधारित प्रस्तुतीयों की उपस्थ्ति लोगो ने काफी सरहाना की।
संस्था अपने उद्देश्य पर संकल्पित - आयोजन को संबोधित करते हुए सीए भगवना लछेटा इंदौर ने विद्यार्थीयों, अभिभावकों एवं शिक्षकों की भूमिका को बताते हुए कहां की विद्यार्थीयों के भविष्य को निखारने में सभी का महत्वपूर्ण योगदान रहता है। शिक्षा के साथ ही संस्कार भी विद्यार्थी जीवन में महत्वपूर्ण रहते है। संस्था का जो शिक्षा, संस्कार एवं अनुशासन का उद्देश्य है, आयोजन को देखकर संकल्पीत दिखाई दें रहा है।
आइएसओ प्रमाणीत हुई संस्था - कार्यक्रम में संस्था के प्राचार्य अर्जुन जाट ने विद्यालय द्वारा वर्षभर में आयोजित गतिविधियों एवं उपलब्धियों के बारे में विस्तार से बताते हुए कहा की शिक्षकों की मेहनत से विद्यार्थियों द्वारा हासिल की गई सफलता से इस वर्ष संस्था को आइएसओ 9001ः2015 से प्रमाणित किया गया है। अतिथीयों एवं संचालक मंडल द्वारा प्रतिभावान विद्यार्थियों एवं विद्यालय के शिक्षको को स्मृती चिन्ह एवं प्रमाण-पत्र भेंट कर सम्मानित किया गया। कार्यक्रम का संचालन संस्था के कृष्णा अग्रवाल, स्पिदित्य नायक, प्रसाद पीटर एवं शीतल भिड़ोदिया ने किया। वही आभार संस्था के उप प्राचार्य पवन भिड़ोदिया ने व्यक्त किया।

Post a Comment

 
Top