राजगढ़। मर्यादा पुरूषोतम भगवान श्रीराम के अनन्य भक्त श्री हनुमानजी महाराज के जन्मोत्सव पर शुक्रवार को धुमधाम से मनाया गया। इस अवसर पर शहर में तीन स्थानों पर लाल दरवाजा क्षेत्र स्थित वाॅटर वक्र्स वाले हनुमान मंदिर पर श्रीसाईराम मित्र मण्डल के द्वारा  एमपीईबी प्रांगण स्थित श्री करंट वाले हनुमान मंदिर एवं दलपुरा क्षेत्र स्थित झिरीवाले हनुमान मंदिर पर परंपरानुसार इस वर्ष भी भण्डारा के आयोजन किया गया।
मुख्य रूप से वाॅटर वक्र्स वाले हनुमान मंदिर पर प्रातः से ही दर्षनार्थियों की आवाजाही प्रारंभ हो गई। पूर्णाहूति के बाद प्रातः 11 बजे भण्डारे प्रारंभ होकर देर शाम तक चलता रहा। दोपहर के समय में पण्डाल श्रद्धालुओं से खचाखच भर गया था। भण्डारे में छोटे बच्चों लेकर बडे़ तक हर कोई व्यवस्था में लगा हुआ था।
श्रीसाईराम समिति के अजय जायसवाल ने बताया कि प्रतिवर्षानुसार एक दिन पूर्व यानि गुरूवार को रात्रि में मंदिर प्रांगण में संगीतमय भजन संध्या का अयोजन किया गया। शुक्रवार सुबह श्री हनुमानजी को तेल और सिंदुर से विशेष चोला चढ़ाकर पूजन किया गया। भोजन प्रसादी ग्रहण करने के लिए श्रद्धालुओं के बैठने के व्यवस्था मंदिर परिसर के सामने की गई थी। भण्डारे में समिति के इन्द्रकुमार दुबेला, राजा राठौर, रवि नखेत्रा, प्रमोद जैन, कैलाश प्रजापत, महेंद्र यादव आदि सदस्य व्यवस्था को लेकर सक्रिय रहें।
इसी प्रकार एमपीईबी कार्यालय स्थित श्रीकरंट वाले हनुमान जी मंदिर पर आयोजित तीन दिवस महोत्सव के अंतिम दिन शुक्रवार को हवन पूजन, ध्वजा दण्ड, कलष स्थापना के साथ पूर्णाहूति हुई। दोपहर 12 बजे भण्डारे प्रारंभ हुआ। इसी प्रकार पिपरनी मार्ग स्थित श्री ईच्छापूर्ति हनुमान मंदिर पर भी भण्डारे में हजारों ने प्रसादी ग्रहण। वही शाम को पूजन-अर्चन के बाद दलपुरा क्षेत्र स्थित झिरीवाले हनुमान मंदिर पर देर रात्रि श्रद्धालुओं ने प्रसादी ग्रहण की।

Post a Comment

 
Top