भोपाल। प्रवेश एवं शुल्क विनियामक समिति (एएफआरसी) ने मंगलवार को चार मेडिकल कॉलेजों की क्लीनिकल और नान क्लीनिकल पीजी कोर्स की फीस निर्धारित कर दी है। आरडीगार्डी कॉलेज प्रबंधन तीस फीसदी फीस की बढ़ोतरी की मांग कर रहे थे, लेकिन एएफआरसी ने उनकी फीस में अधिकतम चार फीसदी बढ़ोतरी की है। चिकित्सा शिक्षा संचालनालय ने पीजी की सीटों पर प्रवेश देने के लिए प्रथम राउंड की सीटों की काउंसलिंग पूरी कर दी है। फीस एएफआरसी ने प्रदेश के चार मेडिकल कॉलेजों की पीजी कोर्स की फीस निर्धारित की है। एएफआरसी ने सभी कॉलेजों के प्रस्तावों का बारीकी से परीक्षण कर फीस में ढाई से चार फीसदी तक ही बढ़ोतरी की है। जबकि कॉलेजों ने दस से तीस फीसदी तक फीस की बढ़ोतरी के करने के प्रस्ताव एएफआरसी को सौंपे थे। फीस एएफआरसी ने पचास फीसदी कॉलेजों की फीस को यथावत रखा है। इसमें आरडीगार्डी मेडिकल कॉलेज की क्लीनिकल फीस दस लाख 19 हजार निर्धारित की है। जबकि उनकी फीस पूर्व में नौ लाख 80 हजार रुपए थी। इसके अलावा अरविंदो की 11 लाख 55 हजार की फीस को यथावत रखा है। वहीं, नान क्लीनिकल में चिरायु मेडिकल कॉलेज की फीस साढ़े नौ लाख और अरविंदो मेडिकल कॉलेज की फीस पांच लाख 80 हजार रुपए निर्धारित की गई है, जो गत वर्ष के बराबर है। वहीं आरडीगार्डी कॉलेज की फीस सात लाख से बढ़ाकर सात लाख 28 हजार रुपए निर्धारित की गई है। एएफआरसी के ओएसडी आलोक चौबे ने बताया कि कॉलेजों से आए फीस के प्रस्तावों का बरीकी से परीक्षण कर अनायास खर्चों को नजर अंदाज कर उनकी फीस निर्धारित की गई है।

Post a Comment

 
Top