भोपाल। मध्य प्रदेश में लोकसभा चुनाव के पहले चरण में छह संसदीय एवं एक विधानसभा सीट के लिए चुनाव प्रचार शनिवार शाम 6 बजे समाप्त हो गया। चुनाव प्रचार में सभी पार्टियों ने अपनी पूरी ताकत झोंकी। हालांकि इन सीटों पर मुख्य मुकाबला भाजपा एवं कांग्रेस के बीच ही माना जा रहा है। मध्यप्रदेश में यह लोकसभा चुनाव का पहला चरण है जबकि देश भर में यह चौथा चरण है। इस चरण में मध्य प्रदेश के मुख्यमंत्री कमलनाथ के बेटे नकुल नाथ (कांग्रेस) तथा मध्य प्रदेश भाजपा अध्यक्ष राकेश सिंह एवं पूर्व केन्द्रीय मंत्री फग्गन सिंह कुलस्ते (भाजपा) जैसे दिग्गज नेताओं की प्रतिष्ठा दांव पर है। वहीं, छिन्दवाड़ा विधानसभा सीट के लिए हो रहे उपचुनाव में मुख्यमंत्री कमल नाथ भी मैदान में हैं। इस चरण में सीधी, शहडोल, जबलपुर, मण्डला, बालाघाट एवं छिन्दवाड़ा के लिए 29 अप्रैल को मतदान होगा। 2014 में इनमें से पांच सीटों पर भाजपा ने कब्जा किया था जबकि छिन्दवाड़ा सीट कांग्रेस को मिली थी। इस चरण के चुनाव के लिए प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी ने जबलपुर और सीधी में भाजपा प्रत्याशियों के लिए चुनावी सभाएं की वहीं कांग्रेस अध्यक्ष राहुल गांधी ने अपनी पार्टी के जबलपुर एवं शहडोल उम्मीदवारों के लिए चुनावी सभाएं की। इसके अलावा कमलनाथ, प्रदेश के पूर्व मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान एवं कई अन्य केन्द्रीय एवं प्रदेश के मंत्री भी खासे सक्रिय रहे। इन छह सीटों पर कुल 108 प्रत्याशी मैदान में है जिनमें से सीधी में 26, शहडोल में 13, जबलपुर में 22, मण्डला में 10, बालाघाट में 23 एवं छिन्दवाड़ा में 14 उम्मीदवार हैं। छिन्दवाड़ा विधानसभा उप-चुनाव में नौ उम्मीदवार मैदान में हैं। इस चरण में कुल 13,791 मतदान केन्द्र एवं एक करोड़ 8 लाख से अधिक मतदाता हैं। इनमें 9,864 मतदाता अपने डाक मतपत्रों से मतदान करेंगे। प्रदेश के मुख्य निर्वाचन पदाधिकारी वी एल कांता राव ने बताया, ‘‘बालाघाट संसदीय क्षेत्र के अंतर्गत आने वाली आठ विधानसभा क्षेत्रों में से नक्सल प्रभावित तीन विधानसभा क्षेत्रों बैहर, लांजी एवं परसवाड़ा में मतदान का समय सुबह सात बजे से अपरान्ह चार बजे रहेगा। शेष सभी संसदीय क्षेत्रों एवं बालाघाट के शेष विधानसभा क्षेत्रों में मतदान का समय सुबह सात बजे से सायं छह बजे तक रहेगा।’’ इन संसदीय क्षेत्रों में 28,959 बैलेट यूनिट, 18,486 कन्ट्रोल यूनिट एवं 19,254 वीवीपैट का उपयोग किया जायेगा। तीन संसदीय क्षेत्रों बालाघाट, सीधी एवं जबलपुर में 16 से अधिक एवं 32 से कम उम्मीदवार होने के चलते प्रत्येक बूथ पर दो-दो बैलेट यूनिट लगाई जाएंगी। प्रदेश की 29 लोकसभा सीटों के लिए चार चरणों 29 अप्रैल, छह मई, 12 मई एवं 19 मई को मतदान होना है। मतगणना 23 मई को होगी। 

Post a Comment

 
Top