राजगढ़। नगर में में श्री महावीर स्वामीजी (हाथीवाला) जिन मन्दिर की भव्याति अंजशलाका प्रतिष्ठा महोत्सव के अंतर्गत प्रथम दिवस 11 अप्रैल गुरुवार को सुबह कुंभ स्थापना, ज्वारा रोपण के साथ शुरुआत हुई इसका स्व श्रीमती कमलाबाई माणकचन्द पुराणी के आत्मश्रेयार्थ एवम पुत्र वधु शीतल पुरानी के वर्षीतप निमित्ते लाभ लिया। अखण्ड ज्योत स्थापना का श्रीमती शांताबेन विमलचंद जैन द्वारा लाभ लिया गया। सुबह की नवकारसी का लाभ पूज्य पिताश्री बाबुलाल एवं मातुश्री चाँदबाई की स्मृति में लिया गया। श्री 108 पार्श्वनाथ महापूजन हुआ जिसके लाभार्थी रतनलाल भेरूलाल की पुण्य स्मृति में राजेद्र भवन पर हुआ। सुबह का स्वामीवत्सल्य श्रीमती लीलाबाई घेवरमल काकरिया,श्रीमती चन्द्रकान्ता शैतान मलजी कोठारी ओर श्रीमती कुंसुम बाई प्रकाशचन्द्र चॉइस परिवार वालो की ओर से था वही शाम के लाभार्थी किरणबाला रमणलाल जैन की प्रेरणा से किया गया ।

जलयात्रा निकाली गई....

आचार्य विश्वरत्नसागर सूरीश्वरजी व ऋषभचंद्र सूरीश्वरजी महाराज आदि साधु-साध्वी मंडल के साथ लाभार्थी परिवार श्रीमती रमण बाई राजमलजी पुराणी परिवार के साथ जलयात्रा में निश्रा में महावीर जी मन्दिर से प्रमुख मार्गों से होते हुए माताजी मन्दिर पहुँचे। वहा से मंत्रोच्चारण के साथ कलश में जल भरकर पुनः महावीर जी मन्दिर की ओर प्रस्थान किया इसमे जवाहर मार्ग पर आचार्य नरेंद्र सूरीश्वरजी महाराज ने भी निश्रा प्रदान की।


भोजन व्यवस्था मोहन गार्डन में छोटेलालजी मामा, बसंतीलाल मेहता व झनाट ग्रुप,संस्कृति परिवार द्वारा दी जा रही है। भोजन करने आ रहे समाजजनों को झूठा न डाल का संदेश दिया जा रहा है।

 घर-घर सजावट के साथ दीपक भी लगे....

राजगढ़ में प्रतिष्ठा अंर्तगत घर घर झिलमिलाती लाइट व सजावट के साथ 8 दिवस तक दीपो उत्सव के रूप समाजजनों द्वारा मनाया जा रहा है इसके लिए श्री जैन श्वेतांबर सोश्यल ग्रुप एक्टिव राजगढ़ द्वारा दीपक बॉट कर प्रेरित किया ।

Post a Comment

 
Top