नरेंद्र पँवार, दसाई। शीतला सप्तमी पर्व नगर मे बुधवार को धूमधाम के साथ मनाया गया। पर्व को लेकर सुबह से ही चहलपहल प्रारम्भ हो गई थी। किसी ने होली खेलकर तो किसी धार्मिक कार्यक्रम से जुडकर पर्व का पूरा-पूरा आनंद लिया। शीतला सप्तमी पर अलसुबह से ही मन्दिरो मे पूजन के लिये महिलाओ की काफी भीड रही। सुबह चार बजे से ही शीलता माताजी के पूजन के लिये महिलाऐ मन्दिर मे पहुॅच कर अपनी बारी का इंतजार करती रही।  भवानी माता मन्दिर, अम्बिका माता मन्दिर,  कुम्हार मोहल्ला, कुमारपाट सहित कई जगह पर शीतला माता का पूजन किया गया। भवानी माता मन्दिर मे सबसे ज्यादा भीड रही। महिलाओ ने शीतला माता का पूजन कर अपने घर, परिवार की सुख,समृद्वि की कामनाऐ की।

नही बना भोजन- शीतला सप्तमी के पर्व के दिन दसाई मे किसी के घर पर गर्म खाना नही बनाया गया। यहाॅ सभी ने बासी भोजन ग्रहण कर पर्व की  परंपरा का निर्वहन किया। इस दिन घरो मे कई प्रकार के मनमोहक व्यंजन बनाये गये। जिसका पुरा-पुरा लुप्त सुबह से शाम तक लिया गया। वही अपने परिचित को अपने घर बुलाकर व्यंजनो को  खिलाकर होली की शुभकामनाऐ दी।
खेली होली- जहाॅ देशभर मे होली का पर्व धूलेडी और रगंपचमी को मनाया जाता है। वही दसाई सहित आसापास क्षेत्र मे होली का पर्व धूमधाम के साथ सप्तमी के दिन मनाया गया। सुबह से ही होली लोगो को परवान चढ गई थी। नगर के चारो होली का माहौल रहा। हर कोई पूरे रंग मे रमा था। बच्चो से लगाकर बडो ने सुखे रंग से  होली खेली। शीतला सप्तमी के पावन अवसर पर नगर मे गेर का आयोजन प्रतिवर्ष होता है मगर इस बार गेरो का अभाव देखने को मिला। मात्र दो ही गेर नगर मे आई ओर लोगो का मनोरंजन करवाया।

Post a Comment

 
Top