रायपुर। मुख्यमंत्री ने कहा है आपसी प्रेम और विश्वास छत्तीसगढ़ के समाज की शक्ति रही है। पहले अलग-अलग परिवारों, समाजों और घरों के बीच आपसी प्रेम, भाई-चारा और सौहार्द्र का व्यवहार होता था। लोग सामाजिक कार्यक्रमों के जरिए एक दूसरे के दुख-सुख के सहभागी बनते थे। छत्तीसगढ़ में हमें इस भावना को हमेशा बनाए रखना है। गांवों में ‘मितान बदने’ की लोक-परम्परा इसकी मिसाल है। ऐसे कार्यों से नागरिकों एवं समाजों के बीच का बंधन और मजबूत होता है। श्री बघेल आज दुर्ग जिले के भिलाई में सर्व समाज द्वारा आयोजित नागरिक अभिनंदन समारोह को सम्बोधित कर रहे थे। मुख्यमंत्री ने कहा कि मजबूत शिक्षा के बूते ही समाज आगे बढ़ेगा। भिलाई की पहचान एक एजुकेशन हब के रूप में है और यहां के युवा अच्छी शिक्षा पाकर देश-विदेशों में छत्तीसगढ़ का नाम रोशन कर रहे हैं। भिलाई के एजुकेशन हब की तरह ही प्रदेश के अन्य क्षेत्रों में भी शिक्षा को मजबूत करना है। उन्होंने कहा कि हमारी एकता ही छत्तीसगढ़ को मजबूत करती है। जब आप एक साथ ‘छत्तीसगढ़ महतारी’ के लिए खड़े होते हैं तो इसे सजाने और संवारने का हमारा संकल्प और भी मजबूत होता है। श्री बघेल ने कहा कि खेती को आगे बढ़ाने के लिए 2500 रुपए धान खरीदी और कर्ज माफी जैसे कार्य किए गए हैं। हम छत्तीसगढ़ महतारी को तरक्की और उन्नति के रास्ते पर ले जाने के लिए  हर संभव कार्य करेंगे।  कार्यक्रम में गृह मंत्री श्री ताम्रध्वज साहू ने कहा कि सभी समाजों के समन्वित प्रयासों से छत्तीसगढ़ निरंतर विकास के रास्ते पर आगे बढ़ेगा। छत्तीसगढ़ सरकार द्वारा किए गए फैसलों से समाज के सभी वर्गों को लाभ पहुंचा है और सब के चेहरे में खुशी और उत्साह छलक रहा है। इस मौके पर विधायक एवं भिलाई नगर निगम के महापौर श्री देवेंद्र यादव ने भी सम्बोधित किया। इस मौके पर सर्व समाज के सदस्यों ने मुख्यमंत्री का नागरिक अभिनंदन किया। समारोह में विभिन्न समाजों के पदाधिकारी, अनेक जनप्रतिनिधि एवं गणमान्य नागरिक भी उपस्थित थे।

Post a Comment

 
Top