राजगढ़। एनएसयूआई के विरोध के बाद आज महाविद्यालय में अखिल भारतीय विद्यार्थी परिषद द्वारा छात्र सदस्यता सम्मेलन आयोजित किया गया। उक्त आयोजन 25 सितम्बर को होना था लेकिन एन मौके पर एनएसयूआई ने आपत्ती ले ली जिसके बाद मंगलवार को अभाविप कार्यकर्ता महाविद्यालय पहुंचे एवं प्राचार्य एसएन मण्डलोई से बहस करते हुए अनुमती ली गई। जिसके बाद आज सदस्यता सम्मेलन आयोजित किया गया। मंगलवार को एनएसयूआई के ब्लाॅक अध्यक्ष पर जान से मारने की धमकी देने का आरोंप लगाते हुए अभाविप द्वारा पुलिस थाना राजगढ़ पर आवेदन दिया गया। जिसके बाद आज उक्त आरोंप को निराधार बताते हुए एनएसयूआई ने ज्ञापन सौपा। हांलाकी सदस्यता सम्मेलन आगे- पिछे होने के कारण आयोजन में में विद्यार्थीयों की संख्या कम ही नजर आई।
आयोजन में अभाविप के प्रांत कार्यकारिणी सदस्य सन्तोष जोशी व विभाग छात्रा प्रमुख सृष्टि बिल्लौरे अतिथि के रूप में मौजुद थे। आयोजन में परिषद की स्थापना तथा विद्यार्थी परिषद की गतिविधियों को बताया वहीं विद्यार्थियों से संवाद कर परिषद से जुड़ने का आव्हान किया। संवाद में कई समस्याएं और उपलब्धियां संज्ञान में लाई गई। जिसमें ग्रामीण क्षैत्रों के विद्वार्थीयों की प्रमुख समस्या परिवहन की सामने आई जिसमें विद्यार्थीयों को बस में न बैठाना एवं महाविद्यालय के सामने बस को ना रोकना शामिल है। एवं इस हेतु अभाविप महाविद्यालय के सामने 4 अक्टुबर को प्रदर्शन का आव्हान करेगी। कार्यक्रम में महाविद्यालय इकाई से कमलेश मोलवा, विकास श्रीमाली, रवि मारु, नमन व्यास, शुभम जोशी, विजय सांवलेचा, घनश्यामम चैहान, सुधांशु, महेन्द्र राठौर, वर्षा, नीतू माली, नमन व्यास, श्रवण राठौड़ आदि कार्यकर्ता उपस्थित रहे।
एनएसयूआई ने दिया ज्ञापन - इधर आज सरदारपुर में जिला पुलिस अधिक्षक के नाम एनएसयूआई ने सरदारपुर एसडीओंपी एनके काॅसौठिंया को ज्ञापन सौपा।  ज्ञापन में बताया कि शासकीय महाविद्यालय सरदारपुर -राजगढ़ एक उच्च शैक्षनिक संस्था है लेकिन एबीवीपी द्वारा समय-समय पर महाविद्यालय परिसर मे आकर बाहरी विद्यार्थीयो द्वारा कार्यक्रम आयोजित किये जाते है और आयोजित कार्यक्रमो मे महाविद्यालय परिवार के विद्यार्थी सहभागिता नही करते है तो उन्है जबरन डराया धमकाया जाता है। जिससे  महाविद्यालय के विद्यार्थीयो मे भय का माहौल व्याप्त है। ऐसा ही एक कार्यक्रम एबीवीपी द्वारा दिनांक 25 सितम्बर को आयोजित किया जा रहा था उक्त कार्यक्रम मे हम महाविद्यालय के विद्यार्थीयो को भी जबरदस्ती पूर्वक बुलाया जा रहा था जिससे हमारी पढाई मे व्यवधान उत्पन्न हो रहा है। हमारे द्वारा कार्यक्रम का विरोध किया गया तो उसी समय सत्यम बिल्लौरे, संतोष जोशी, सोहन पटेल द्वारा मोहित जाट और पवन यादव के खिलाफ थाना राजगढ मे शिकायत दर्ज करवाई। जबकि जिन विद्यार्थीयो द्वारा शिकायत दर्ज करवाई है वे बाहरी छा़त्र होकर आये दिन महाविद्यालय परिसर मे आते रहते है जिससे महाविद्यालय परिसर मे कभी भी शांति सद्भावनाओ का माहौल कभी भी भंग हो सकता है। मोहित जाट एवं पवन यादव के खिलाफ जो झुठी शिकायत दर्ज करवाई है उसपर किसी भी प्रकार की कोई कार्रवाई नही की जाए। महाविद्यालय परिसर मे बाहरी विद्यार्थीयो के प्रवेश पर रोक लगाई जाए एवं बाहरी छात्र सत्यम बिल्लौरे, सोहन पटेल, ज्वाला सौलंकी पर डराने धमकाने का प्रकरण दर्ज कर कार्रवाई की जाए जिससे महाविद्यालय परिसर मे शांति का माहौल बना रहे और हम विद्यार्थी बिना व्यवधान के पढाई कर सके। अगर शीघ्र ही हमारी मांगे पुरी नही की जाती है तो एनएसयूआई एवं महाविद्यालय विद्यार्थीयो के द्वारा उग्र आन्दोलन किया जाएगा। ज्ञापन का वाचन एनएसयूआई के जिला महासचिव दिनेश चौधरी ने किया इस अवसर पर एनएसयूआई ब्लाॅक अध्यक्ष मोहित जाट, मनीष मारू, दीप मालवीय, ललित मारू, कृष्णा मोलवा, पवन यादव, मुकेश पटेल, विक्की यादव आदि उपस्थित थे।

Post a Comment

 
Top