राजगढ़। ग्राम टिमायची में 24 जून से जारी अनषन (भूख हड़ताल) में एक नया मोड़ आ गया है। सोमवार को  कांग्रेस के पूर्व विधायक प्रताप ग्रेवाल अनषन स्थल पर पहुॅचे और किसानो की मांगो का समर्थन करते हुए उनकी मांगो को वाजिब बताया है। ग्रेवाल ने अनषन स्थल से ही निजी मोबाईल से प्रषासन को अवगत कराते हुए कहा कि किसानो व ग्रामीणों की मांगो को जल्द पूरा नहीं किया गया तो वे भी उनके साथ अनशन पर बैठेंगे। गौरतलब है कि ग्राम टिमायची में 24 जून से मांगीलाल उर्फ मंगलसिंह व उनके समर्थक किसान अनषन पर बैठे हुए है। किसानो का कहना है कि जब तक हमारी मांगे पूरी नहीं होगी। तब तक यह हड़ताल का क्रम जारी रहेगा। किसान मांगीलाल ने बताते हुए कहा कि राष्ट्रीयकृत बैंको में कृषि ऋण स्वीकृति में दलालो और बिचोलियों की महत्वपूर्ण भूमिका कई वर्षो से चली आ रही है। जरुरतमंद गरीब कृषि के लिए लोन लेता है तो बिना दलाल के ऋण स्वीकृति नहीं होता है। कई बार बैंको की षिकायत होने के बावजूद भी प्रषासन ने कोई सख्ती नहीं दिखाई है बल्कि मांगीलाल को दलालों की धमकियां  ही मिलती रही है। बैंको में दलाली के कारण बैंक आॅफ महाराष्ट्र शाखा राजगढ़ में गोपाल पिता पुनमचंद कुमावत ने कृषि लोन के लिए आवेदन दिया था। लेकिन बैंक के दलालो ने रुपयों की मांग पर इतना परेषान कर दिया कि गोपाल को जहर खाकर अपनी जान गवाना पड़ी। बैंक के अधिकारी और दलाल मिलकर उक्त राषि को हड़प ली। और पूनमचंद से वसूली के लिए दबाव बना रही है। जिसकी षिकायत एसडीएम को पूर्व में की गई। पर अभी तक कोई कार्रवाई नहीं हो पाई है। ग्राम पंचायत टिमायची में राज्य शासन एवं केन्द्र शासन की विभिन्न योजना अंतर्गत राषि आवंटित की गई। लेकिन सरकार की योजना का लाभ हितग्राहियों को नहीं मिल पाया है। किसानो ने ग्रेवाल को यह भी बताया गया कि आरईएस विभाग द्वारा तालाब का निर्माण किया गया जो कि घटिया सामग्री से बनाया गया। उसमें पानी एकत्र नहीं हो रहा है। प्रषासन को इसकी षिकायत अनेक बार की गई किंतु सरकार के नुमाइंदो की अनदेखी से यह मामला ठण्डे में बस्ते में जा गया है। अनषन पर बैठै ग्रामीण व किसानो ने विद्युत वितरण कंपनी पर भी आरोप लगाए है कि राजू गांधी विद्युत वितरण योजना अंतर्गत लाइने डाली गई थी। वे कागजो पर ही पूरी हो गई है। आज गांव के अंदर बिजली के खंबो पर करंट उतर रहा है। औक केबल झुल रही है। किंतु विद्युत कम्पनी आंख मूंदे बैठी हुई है। किसानो ने यह भी बताया कि वर्ष 2015-16 में सरदारपुर क्षेत्र में वर्षा कम होने से सूखाग्रस्त घोषित किया गया। किंतु सरदारपुर क्षेत्र के कुछ गांवो मंे मुआवजे की राषि, फसल नुकसानी की राषि बंट गई। किंतु गांव भानगढ़, सोनगढ़ व टिमायची के किसानो को मुआवजे की राषि नहीं मिल पाई है। पूर्व विधायक ग्रेवाल के साथ ब्लाॅक कांग्रेस अध्यक्ष रघुनंदन शर्मा, रमेष सेठ बोरीवाले, मुकेष तुफान सहित कांग्रेसी मौजुद थे।

निराकरण नही हुआ तो बैठुंगा हड़ताल पर:- पूर्व विधायक प्रताप गे्रवाल ने कहा की किसानो की समस्या का निराकरण जल्दी नहीं किया गया तो मैं 30 जून से टिमायची के किसान एवं ग्रामीणो के साथ अनषन पर बैठूंगा। हालांकि मैंने अनुविभागीय अधिकारी को अवगत कराया है कि इनकी मांगो का निराकरण शीघ्र हो। अन्यथा मुझे भी अनषन पर बैठने के लिए बाध्य होना होगा।

Post a Comment

 
Top