सुमित राठौड़,बामनिया। स्थानीय खेड़ापति हनुमान मंदिर पर चल रही भागवत कथा में आज भगवान श्री कृष्ण का जन्मोत्सव धूमधाम से मनाया गया। प.श्री ठाकुर ने कृष्ण जन्मोत्सव की कथा सुनाई कथा सुनकर श्रद्धालु भाव विभोर हो गए उन्होंने कहा कि वासुदेव देवकी ने कारागृह में रह कर भगवान को प्राप्त किया और कारागृह को कृष्ण मंदिर के रूप में परिवर्तित कर दिया।
वासुदेव ने भगवान को बांस की टोकरी में ज्यो ही अपने सर पर रखा उनके हाथ की हथकड़ियां खुल गयी और पैर की बेड़िया टूट गयी जिव जब ब्रह्मा से सम्बन्ध करता है तो दुनिया के सारे बंधन टूट जाते है। उत्सव में यहाँ सुनने आये भक्तो ने पुष्पवर्षा और गुलाल उड़ा कर खुब नृत्य किया। कल कथा के पांचवे दिन भगवान को छप्पन भोग लगाएं जायेंगे।

Post a Comment

 
Top